अहमदाबाद में अब भी “चुनावी रंग” नहीं बंना

अहमदाबाद में अब भी “चुनावी रंग” नहीं बंना
Click for full image

अहमदाबाद: गुजरात में विधानसभा चुनावों की बेहस जगह जगह होने लगी है लेकिन राजनीति और अर्थव्यवस्था का केंद्र‌ माने जानेवाले इस ऐतिहासिक शहर में अब भी ‘चुनावी रंग’ नहीं चढ़ सका है।

औद्योगिक, व्यापारी और शिक्षा केंद्र माने जानेवाले इस शहर में पहले चरण की वोटिंग नौ दिसंबर को होने वाली है इस के बावजूद यहां ना तो किसी पार्टी का झंडा, बैनर, पोस्टर वग़ैरा नज़र आ रहा है और ना ही कोई राजनीतिक गर्मा गर्मी दिखाई दे रही है राज्य में चलने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) और मुख्य विपक्षी पार्टी कांग्रेस के नेताओं का दौरा शुरू हो गया है इस के बावजूद शहर उदास है।

तक़रीबन 70 लाख की आबादी वाले इस शहर में कल 16 विधानसभा सीटें हैं। शहर में प्राईवेट कंपनीयों के बैनर पोस्टर तो नज़र आ जाते हैं लेकिन राजनीतिक पार्टीयों की इस तरह की कोई मुहिम नहीं चल रही है।

Top Stories