Friday , December 15 2017

अहमदिया मुस्लिमों को क़त्ल करो, पम्फ़लेट जारी 

लन्दन : साऊथ लन्दन की एक मस्जिद में बड़ी तादाद में छोटी किताबें बरामद की गयी हैं, जिनमें अहमदिया मुसलमान की क़त्ल का फरमान जारी किया गया है. इन पम्फ़लेट में अहमदिया को नास्तिक क़रार दिया गया है. ये किताबें स्टॉकवेल  ग्रीन मस्जिद में भारी तादाद में मिली हैं. इनमें साफ़ कहा गया है की अगर ये मेन  स्ट्रीम के इस्लाम में लौटने से इंकार करते हैं तो इनकी हत्या कर देनी चाहिए।  इन किताबों को खत्मे नबूवत के ए के साबिक़ चीफ ने लिखा है. यह ग्रुप विदेशी दफ्तरों में मस्जिदों को लामबंध करता है. 
मस्जिद के एक ट्रस्टी ने कहा की उसने इस किस्म की किताबें इससे पहले कभी नहीं देखि। ट्रस्टी ने कहा की ये सरे फ़र्ज़ी हैं और एक साजिश है।  इससे पहले एक अहमदी दुकानदार को चाक़ू घोप कर क़त्ल कर दी गयी थी।  इसे एक मुसलमान ने मार था।  जिसने इस्लाम को तौहीन करने का इल्ज़ाम लगाया था।  गुजिश्ता महीने 40 साल के असद शाह ग्लास्को में अपने स्टोर के बाहर जख्मी हालत में मिले थे।  

ब्राडफोर्ड के 32 साल के तनवीर अहमद ने शाह की क़त्ल की बात क़ुबूल की थी।  तनवीर के ऊपर का मामला दर्ज़ किया गया है।  अहमदी अमन और दूसरी मज़हबों को इज़्ज़त करने वाले माने जाते हैं लेकिन इस तबके को पकिस्तान के क़ानून में बैन कर दिया गहा है की वह खुद को मुसलमान नहीं कह सकते।  अहमदी तबके के लोगों पर अक्सर फ़िर्क़ापरस्ती हमले होते हैं।  इसका असर ब्रिटेन में भी देखा जा रहा है।  खत्मे नबूवत अहमदियों के खिलाफ तशद्दुद को बढ़ावा देता है  

TOPPOPULARRECENT