अक़लीयती स्कीमात पर शफ़्फ़ाफ़ियत के साथ अमल आवरी की हिदायत

अक़लीयती स्कीमात पर शफ़्फ़ाफ़ियत के साथ अमल आवरी की हिदायत

तेलंगाना में अक़लीयती बहबूद स्कीमात पर मोअस्सर अमल आवरी के लिए डायरेक्टर अक़लीयती बहबूद जलाल उद्दीन अकबर ने आज डिस्ट्रिक्ट माइनॉरिटी वेलफेयर ऑफीसर्स का इजलास तलब किया। उन्होंने शहर और अज़ला में अक़लीयती बहबूद की स्कीमात पर अमल आवरी का जायज़ा लिया और ओहदेदारों को हिदायत दी कि वो मुकम्मल शफ़्फ़ाफ़ियत के साथ स्कीमात पर अमल करें।

उन्होंने कहा कि हुकूमत जिस मक़सद से बजट जारी कर रही है उस का सही इस्तेमाल और हक़ीक़ी मुस्तहक़्क़ीन तक फ़वाइद पहुंचाना ओहदेदारों की ज़िम्मेदारी है। जलाल उद्दीन अकबर ने स्कीमात के सिलसिले में मिलने वाली बाअज़ शिकायतों का हवाला दिया और ओहदेदारों को पाबंद किया कि वो किसी भी बेक़ाइदगी का मौक़ा फ़राहम ना करें बसूरते दीगर हुकूमत सख़्त कार्रवाई करेगी।

उन्होंने डिस्ट्रिक्ट माइनॉरिटी वेलफेयर ऑफीसर्स को बताया कि हुकूमत ने फ़ीस बाज़ अदायगी और स्कॉलरशिप के लिए 90 करोड़ रुपये जारी किए हैं और ये रक़म जल्द ही कॉलेजेस को जारी कर दी जाएगी। उन्होंने बताया कि पहले मरहला में हर कॉलेज के 50 फ़ीसद बक़ायाजात जारी करने का फ़ैसला किया गया है।

2013-14 और 2014-15 के बक़ायाजात की इजराई का अमल जारी है। उन्होंने बताया कि वक़्फ़ बोर्ड और अक़लीयती बहबूद के स्टाफ़ की तादाद में इज़ाफ़ा की कोशिश की जा रही है ताकि अज़ला में कारकर्दगी बेहतर हो।

Top Stories