Monday , August 20 2018

अज़दवाजी ज़िंदगी सालिह मुआशरे की ज़ामिन

मुल्क में पहली मर्तबा समाअत-ओ-बसारत से महरूम-ओ-जिस्मानी माज़ूरिन मुस्लिम लड़कों-ओ-लड़कीयों को रिश्ता-ए-इज़दवाज से मुंसलिक करने के लिए आज इस्लामिक सेंटर लक्कड़ कोट, छत्ता बाज़ार में अपनी नौईयत का पहला दो बद्दू मुलाक़ात प्रोग्राम मुनाक़िद

मुल्क में पहली मर्तबा समाअत-ओ-बसारत से महरूम-ओ-जिस्मानी माज़ूरिन मुस्लिम लड़कों-ओ-लड़कीयों को रिश्ता-ए-इज़दवाज से मुंसलिक करने के लिए आज इस्लामिक सेंटर लक्कड़ कोट, छत्ता बाज़ार में अपनी नौईयत का पहला दो बद्दू मुलाक़ात प्रोग्राम मुनाक़िद हुआ, जिस में वालिदेन-ओ-सरपरस्तों के अलावा माज़ूर नौजवान लड़के-ओ-लड़कीयां और मुसलमानों की एक बड़ी तादाद शरीक थी।

इस मौके पर कई रिश्ते बरसर मौक़ा तए पाए और एक तए शूदा रिश्ते का बाक़ायदा तौर पर एलान किया गया। जनाब ज़हीर उद्दीन अली ख़ान मैनेजिंग एडीटर रोज़नामा सियासत ने बहैसीयत मेहमान ख़ुसूसी शिरकत की, जिन्होंने कहा कि इदारा सियासत-ओ-माइनॉरिटीज़ डेवलपमेंट फ़ोर्म वक़्त के तक़ाज़ों को महसूस करते हुए माज़ूरिन के लिए ख़ुसूसी तौर पर इस प्रोग्राम का एहतेमाम किया है और उन्हें उम्मीद है कि इस प्रोग्राम को मुल्क गीर सतह पर मक़बूलियत हासिल होगी।

उन्होंने कहा कि आज के इस प्रोग्राम के लिए विशाखापटनम से एक माज़ूर लड़की ने ई मेल के ज़रीये अपना बायो डाटा भेजा है, उन्होंने माज़रत ज़ाहिर की के वो रेलवे टिकट के ना मिलने के बाइस इस प्रोग्राम में शिरकत ना करसकी इसी तरह शहर मैसूर से भी समाअत से महरूम बी ई कामयाब लड़के ने अपने रिश्ते के लिए बज़रीया ई मेल बायो डाटा रवाना किया।

जनाब ज़हीर उद्दीन अली ख़ान ने मुसलमानों पर ज़ोर दिया कि हुकूमत की फ़लाह-ओ-बहबूद से मुताल्लिक़ मुख़्तलिफ़ स्कीमात से इस्तिफ़ादा करें। हुकूमत की तरफ से रवा रखी जाने वाली ना इंसाफ़ियों से दिलबर्दाशता ना हूँ। डॉक्टर ख़ालिद मुबश्शिर अलज़फ़र चैरमैन आई आई सी डी-ओ-नाज़िम जमात-ए-इस्लामी शहर हैदराबाद ने अपनी सदारती तक़रीर में कहा कि आई आई सी डी की तरफ से मुफ़्त ख़िदमात पर मबनी माज़ूरिन के लिए एक मैरेज ब्यूरो क़ायम किया जाएगा जहां उनकी शादीयों के लिए रजिस्ट्रेशन की सहूलत हासिल रहेगी।

TOPPOPULARRECENT