अज़ान मग़रिब का एहतेराम , के सी आर ने तक़रीर रोक दी

अज़ान मग़रिब का एहतेराम , के सी आर ने तक़रीर रोक दी
तेलंगाना की गंगा जमुनी तहज़ीब का अमली नमूना पेश करते हुए चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना ने अज़ान के दौरान अपनी तक़रीर को रोक दिया।

तेलंगाना की गंगा जमुनी तहज़ीब का अमली नमूना पेश करते हुए चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना ने अज़ान के दौरान अपनी तक़रीर को रोक दिया।

चीफ़ मिनिस्टर तेलंगाना के चन्द्रशेखर राव सिटी सिविल कोर्ट पुरानी हवेली में एक तक़रीब में शरीक थे। और जैसे ही उन्होंने अपनी तक़रीर का आग़ाज़ क्या। मग़रिब की अज़ान शुरू होगई। अज़ान की आवाज़ को सुनने के बाद ख़ुद चीफ़ मिनिस्टर ने ये कहते हुए कि अज़ान होरही है। अपनी तक़रीर को रोक दिया और ख़ामोश बैठ गए। अज़ां के इख़तेताम के बाद दुबारा अपनी तक़रीर को शुरू करते हुए उन्होंने कहा कि अज़ान के दौरान एहतेराम करना तेलंगाना की गंगा जमुनी तहज़ीब का हिस्सा है , और ऐसा करना चाहीए।

चीफ़ मिनिस्टर की तरफ से अज़ान के इस एहतेराम में अपनी तक़रीर रोकना मुस्लिम वुकला में मुसर्रत का बाइस बना रहा। तक़रीब में शरीक वुकला की अक्सरीयत ने चीफ़ मिनिस्टर के इस इक़दाम की सताइश की और कहा कि जो हर तबक़ा और मज़हब के उसूलों से वाक़िफ़ है और एहतेराम करना जानता है ऐसे क़ाइद ही से नेक तवक़्क़ुआत वाबस्ता रखी जा सकती हैं।

Top Stories