अफ़ज़ल गुरु को फांसी नेशनल कान्फ़्रेंस की हुकूमत पर तन्क़ीद

अफ़ज़ल गुरु को फांसी नेशनल कान्फ़्रेंस की हुकूमत पर तन्क़ीद
नई दिल्ली, 28 फ़रवरी: लोक सभा में आज यू पी ए हलीफ़ नेशनल कान्फ़्रेंस ने अफ़ज़ल गुरु को फांसी के मसले पर हुकूमत को तन्क़ीदों का निशाना बनाया। नेशनल कान्फ़्रेंस रुकन मिर्ज़ा महबूब बेग ने कहा कि राजीव गांधी और साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर पंजाब बईनत

नई दिल्ली, 28 फ़रवरी: लोक सभा में आज यू पी ए हलीफ़ नेशनल कान्फ़्रेंस ने अफ़ज़ल गुरु को फांसी के मसले पर हुकूमत को तन्क़ीदों का निशाना बनाया। नेशनल कान्फ़्रेंस रुकन मिर्ज़ा महबूब बेग ने कहा कि राजीव गांधी और साबिक़ चीफ़ मिनिस्टर पंजाब बईनत सिंह के क़ातिलों को फांसी देने में इस लिए ताख़ीर की गई, क्योंकि टामिलनाडो और पंजाब की हुकूमतों ने ये दावा किया था, कि लाएंड आर्डर का मसला पैदा होगा।

जब चीफ़ मिनिस्टर जम्मू-ओ-कश्मीर उमर अबदुल्लाह ने ये राय दी कि लाएंड आर्डर का मसला पैदा हो सकता है तो उन की तजवीज़ को मर्कज़ ने नज़र अंदाज कर दिया। उन्होंने कहा कि महज़ मर्कज़ के इस तर्ज़े अमल की वजह से उमर अबदुल्लाह को मुश्किलात पेश आरही है। उन्होंने कहा कि अफ़ज़ल गुरु के ख़ानदान को फांसी के बारे में इत्तेला बरवक़्त दी जानी चाहिये थी, क्योंकि ये उन का हक़ है।

Top Stories