Monday , December 18 2017

अफ़्ग़ानिस्तान में 4 दुसरे मुल्क के फ़ौजी हलाक

काबुल, अफ़्ग़ानिस्तान में शोरिश पसंदों ने आज 4 दुसरे मुल्क के फ़ौजीयों को हलाक कर दिया । नाटो की क़ियादत वाली इंटरनेशनल सेक्युरिटी अससटनस फ़ोर्स (ईसाफ़ )ने आज अपने एक ब्यान में ये खबर‌ दी है।

काबुल, अफ़्ग़ानिस्तान में शोरिश पसंदों ने आज 4 दुसरे मुल्क के फ़ौजीयों को हलाक कर दिया । नाटो की क़ियादत वाली इंटरनेशनल सेक्युरिटी अससटनस फ़ोर्स (ईसाफ़ )ने आज अपने एक ब्यान में ये खबर‌ दी है।

पूरे मुल्क में बढ़ते हुए तशद्दुद के दरमयान ये वाक़िया पेश आया।ईसाफ़ ने इस वाकिये की कोई तफ़सीलात या फ़ौजीयों की क़ौमीयत नहीं बताई लेकिन अफ़्ग़ानिस्तान के ओफिसरों ने बताया कि वाक़िया मशरिक़ी सूबा कपीसा में पेश आया जहां फ़्रांस की फ़ौजी टुकड़ी गशत करती है।

सुबाई पुलिस चीफ़ अबदुर्रहमान ने बताया कि कपीसा में फ़्रांसीसी फ़ौजीयों पर ख़ुदकुश हमले का मुझे इलम है लेकिन हलाकतों की तादाद नहीं मालूम।उन्हों ने बतायाकि ये वाक़िया पहाड़ी सूबा के ज़िला मिजराब में पेश आया। तालिबान ने इस हमले की ज़िम्मेदारी ली है।

कुच्छ हि हफ़्तों में पूरे अफ़्ग़ानिस्तान में तशद्दुद में बढावा हुआ है और तालिबान ने अफ़्ग़ान हुकूमत और सलामती दस्तों और‌ मुल्क में एक लाख तीस हज़ार दुसरे मुल्क के फ़ौजीयों को निशाना बनाने का इरादा किया है। इन में से बेशतर फ़ौजी 2014 के आख़िर तक मुलक छोड़ देंगे।

फ़्रांस ने इस साल के आख़िर तक अपने 3400 फ़ौजीयों में से बेशतर को वापिस बुलाने का मंसूबा बनाया है ।

TOPPOPULARRECENT