Wednesday , January 17 2018

आंध्र को ख़ुसूसी रियासत का दर्जा देने का मुतालिबा

गुंटूर 10 अक्टूबर: आंध्र प्रदेश को ख़ुसूसी रियासत का दर्जा देने के मुतालिबे पर वाई एस आर कांग्रेस के सदर जगन मोहन रेड्डी की तरफ् से शुरू करदा भूक हड़ताल तीसरे दिन में दाख़िल हो गई।

42 साला जगन मोहन रेड्डी ने 7 अक्टूबर को गुंटूर ज़िला में नल्लापाडो के मुक़ाम पर अपनी भूक हड़ताल शुरू की थी। वाई एस आर कांग्रेस के मुख़्तलिफ़ क़ाइदीन ने यहां पहूंच कर उनसे इज़हार यगानगत क्या।

इस मौके पर ख़िताब करने वाले क़ाइदीन ने चीफ़ मिनिस्टर आंध्र प्रदेश एन चंद्रबाबू नायडू को तन्क़ीद का निशाना बनाया और कहा कि वो रियासत को ख़ुसूसी मौक़िफ़ दिलाने के लिए संजीदगी से कोशिश नहीं कर रहे हैं।

जगन मोहन रेड्डी के सैंकड़ों हामी भूक हड़ताल कैंप में जमा हुए और उनका ख़ैर-मक़्दम करते हुए उनसे इज़हार यगानगत किया। अरकाने पार्लियामेंट अरकाने असेंबली अरकान कौंसिल और दूसरे अवामी नुमाइंदे भी जगन की भूक हड़ताल के कैंप के क़रीब जमा हैं।

उन्होंने चीफ़ मिनिस्टर चंद्रबाबू नायडू से कहा कि वो मर्कज़ी हुकूमत पर इस वादे की तकमील के लिए दबाव‌ डालें। अगर मर्कज़ी हुकूमत इस वादे को पूरा नहीं करती है तो नायडू मर्कज़ी हुकूमत की ताईद से दस्तबरदार होजाएं।

TOPPOPULARRECENT