Sunday , December 17 2017

आंध्र प्रदेश के नए दारुल हुकूमत पर मुतज़ाद इत्तेलाआत ,चंद्रबाबू नायडू ब्रहम

रियासत आंध्र प्रदेश के लिए नए दारुल हुकूमत से मुताल्लिक़ मीडीया क़ियास आराईयों और मुतज़ाद इत्तेलाआत पर ब्रहमी ज़ाहिर करते हुए चीफ़ मिनिस्टर चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि मीडीया को इस सिलसिले में ग़ैर ज़रूरी उलझन पैदा नहीं करना चाहीए।

रियासत आंध्र प्रदेश के लिए नए दारुल हुकूमत से मुताल्लिक़ मीडीया क़ियास आराईयों और मुतज़ाद इत्तेलाआत पर ब्रहमी ज़ाहिर करते हुए चीफ़ मिनिस्टर चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि मीडीया को इस सिलसिले में ग़ैर ज़रूरी उलझन पैदा नहीं करना चाहीए।

उन्होंने पार्टी क़ाइदीन को भी हिदायत दी कि आंध्र प्रदेश के लिए नए दारुल हुकूमत पर मुतज़ाद बयानात ना दें। एक अख़बारी नुमाइंदों के सवाल पर चंद्रबाबू नायडू ने असेंबली के अलतवा के बाद टी डी एलपी अफ़्सर पर नए दारुल हुकूमत से मुताल्लिक़ वज़ाहत करते हुए कहा कि मैंने शैवराम कृष्णा रिपोर्ट नहीं पढ़ी है ये रिपोर्ट मर्कज़ी वज़ीर-ए-दाख़िले को पेश की गई है।

मीडीया में ये क़ियास आराई की जा रही हैके आंध्र प्रदेश के लिए नया दारुल हुकूमत बनाने जगह का इंतेख़ाब होगया है बाज़ ने लिखा हैके ये दारुल हुकूमत डोना कुंडा में होगा दुसरे ने लिखा कि वीनू कुंडा और बाज़ ने मचरीला को नया दारुल हुकूमत बनाने की रिपोर्ट शाय की है।

इस तरह की मुतज़ाद रिपोर्ट से ग़लतफ़हमी पैदा होती है। दिलचस्प बात ये हैके वज़ीर-ए-ज़राअत पी पिला राव ने कहा कि आंध्र प्रदेश का नया दारुल हुकूमत विजयवाड़ा और गुंटूर के दरमयान वाक़्ये होगा। चंद्रबाबू नायडू ने कहा कि हम नए दारुल हुकूमत का एसा फ़ैसला करेंगे जो सब के लिए काबिले क़बूल होगा। शैव रामाकृष्णन कमेटी ने मुख़्तलिफ़ इख़्तियारात और तजावीज़ पेश किए हैं।

TOPPOPULARRECENT