Monday , December 18 2017

आंध्र प्रदेश में अक़लियती बहबूद के लिए महिज़ 379 करोड़ का बजट

हुकूमत आंध्र प्रदेश ने मालीयाती साल 2015-1के लिए महिकमा अक़लियती बहबूद का बजट 379 करोड़ मुख़तस किया है जिस में मंसूबा जाती मसारिफ़ के तहत 370करोड़ 40लाख मुख़तस किए गए जबकि ग़ैर मंसूबा जाती मसारिफ़ के तहत 8करोड़ 41लाख 29हज़ार रुपये रखे गए हैं।

हुकूमत आंध्र प्रदेश ने मालीयाती साल 2015-1के लिए महिकमा अक़लियती बहबूद का बजट 379 करोड़ मुख़तस किया है जिस में मंसूबा जाती मसारिफ़ के तहत 370करोड़ 40लाख मुख़तस किए गए जबकि ग़ैर मंसूबा जाती मसारिफ़ के तहत 8करोड़ 41लाख 29हज़ार रुपये रखे गए हैं।

हुकूमत ने अगरचे जारीया मालीयाती साल के मुक़ाबला में बजट में इज़ाफ़ा किया ताहम ये इज़ाफ़ा हौसला अफ़्ज़ा-ए-क़रार नहीं दिया जा सकता।2014-15 में आंध्र प्रदेश हुकूमत ने प्लान बजट के तहत 246 करोड़ 72 लाख 40हज़ार मुख़तस किए थे। वज़ीर फाइनैंस वाई राम कृष्णुडू ने आंध्र प्रदेश असेंबली में बजट पेश किया। आंध्र प्रदेश हुकूमत ने रोशनी और दुकान मकान स्कीमात का अहया किया है ताहम अक़लियतों की तालीमी और मआशी तरक़्क़ी से मुताल्लिक़ कोई नई स्कीम शुरू नहीं की गई और मौजूदा स्कीमात के लिए बजट में अलाटमेंट इतमीनान बख़श नहीं है।

चंद्रबाबू नायडू ने अक़लियतों की तरक़्क़ी के सिलसिले में अगरचे बलंद बाँग दावे किए हैं ताहम बजट की पेशकशी के ज़रीये वो अपने दावओं की संजीदगी को साबित ना करसके। 379 करोड़ के बजट में जिन अहम स्कीमात के लिए रक़म मंज़ूर की गई इन में अक़लियती तलबा की फ़ीस बाज़ अदायगी के लिए 85 करोड़, अक़लियती तलबा के स्कालरशिप के लिए 60करोड़, बैंकों से मरबूत सब्सीडी की फ़राहमी के लिए 60 करोड़, अक़लियतों की तालीमी और मआशी सूरत-ए-हाल का जायज़ा और इस से मुताल्लिक़ स्कीमात के लिए 10 करोड़ 8 लाख, मुस्लिम तालिबात के लिए अक़ामती स्कूलस की तामीर के सिलसिले में 3 करोड़ 63 लाख, अक़लियती तलबा के लिए हॉस्टलस और अक़ामती स्कूलस की तामीर के लिए 23करोड़ और उर्दू घर शादी ख़ानों की तामीर के लिए 5करोड़ रुपये शामिल हैं।जिन दुसरे इदारों और स्कीमात के लिए बजट मुख़तस किया गया इन में अक़लियती फाइनैंस कारपोरेशन 9 करोड़ , उर्दू एकेडेमी एक करोड़, वक़्फ़ बोर्ड 2 करोड़, सी ई डी एम 6 करोड़, हज कमेटी 2 करोड़ , क्रिस्चियन फाइनैंस कारपोरेशन एक करोड़, ईसाईयों को यरूशलम के दौरा के सिलसिले में सब्सीडी के तौर पर 50 लाख शामिल हैं मर्कज़ी स्कीमात में रियासत की हिस्सादारी के तौर पर ऐम एसडी पी स्कीम के लिए 60करोड़ और मर्कज़ की पोस्ट मेट्रिक स्कालरशिप के लिए 40करोड़ अलॉट किए गए।

आंध्र प्रदेश हुकूमत ने सब्सीडी की फ़राहमी, फ़ीस बाज़ अदायगी और स्कालरशिप के बजट में इज़ाफ़ा किया है। ग़ैर मंसूबा जाती बजट के तहत अक़लियती कमीशन को 67 लाख रुपये मुख़तस किए गए जबकि जारीया साल सिर्फ़ 8लाख 82हज़ार का बजट दिया गया था। आंध्र प्रदेश हुकूमत ने उर्दू एकेडेमी और वक़्फ़ बोर्ड के बजट में जारीया साल के मुक़ाबले कमी करदी है जबकि सी ई डी कट और हज कमेटी के बजट में इज़ाफ़ा किया गया।

TOPPOPULARRECENT