Monday , December 18 2017

आंध्र प्रदेश में कृष्णा नदी में 38 लोगों को ले जा रही नाव पलटी, अब तक 19 डेड बॉडी बरामद

अमरावती : आंध्र प्रदेश में विजयवाड़ा के पास कृष्णा नदी में रविवार को 38 लोगों को ले जा रही नाव पलट गई। अब तक 19 डेड बॉडी बरामद की गई हैं। लापता लोगों की तलाश के लिए सर्च ऑपरेशन चलाया जा रहा है। NDRF की दो टीमें जिनमें 60 मेंबर्स थे, मौके पर रेस्क्यू के लिए पहुंचीं। इसके अलावा स्टेट डिजास्टर रेस्क्यू फोर्स (SDRF) के 45 मेंबर्स, डिजास्टर रेस्पॉन्स और फायर सर्विस डिपार्टमेंट के 60 मेंबर्स रेस्क्यू ऑपरेशन में लगाए गए। आंध्र की टूरिज्म मिनिस्टर ने इस घटना की जांच के आदेश दे दिए हैं। उन्होंने अधिकारियों को निर्देश दिए कि इस बात का पता लगाएं कि बोट ऑपरेटिंग कंपनी के पास परमिशन थी, या नहीं। हादसे के बाद पुलिस ने 5 लोगों के खिलाफ केस दर्ज किया, एक की गिरफ्तारी हुई है।

पुलिस के मुताबिक, इस नाव पर क्षमता से ज्यादा 38 लोग सवार थे। ज्यादातर लोगों के पास लाइफ जैकेट नहीं थी। रविवार शाम के हादसा तब हुआ, जब ये नाव गोदावरी और कृष्णा नदी के पवित्र संगम के इलाके में थी। नाव पलटते ही ज्यादातर लोग इसके नीचे दबकर डूब गए। नाव पर सवार ज्यादातर लोग प्रकाशम डिस्ट्रिक्ट के ओंगोल वॉकर क्लब के मेंबर्स थे। कुछ लोग नेल्लोर डिस्ट्रिक्ट के थे, जो विजयवाड़ा घूमने आए थे।हादसे के दौरान लोकल मछुआरों ने 15 पैसेंजर्स की जान बचाई।

डूबने वाले एक शख्स की पहचान प्रभाकर रेड्डी के तौर पर की गई है। ये प्रकाशम डिस्ट्रिक्ट की बीजेपी यूनिट के अध्यक्ष थे। हादसे पर आंध्र के सीएम चंद्रबाबू नायडू, डिप्टी चीफ मिनिस्टर एन चिना राजप्पा, अपोजिशन लीडर वाईएस जगनमोहन रेड्डी, आंध्र प्रदेश बीजेपी अध्यक्ष के हरि बाबू ने दुख जताया है। आंध्र सरकार ने मृतकों के परिजनों को 5 लाख रुपए का मुआवजा देने का एलान किया है।

TOPPOPULARRECENT