Thursday , June 21 2018

आंध्र प्रदेश रियासती अक़लीयती मालीयाती कारपोरेशन को दो रियासतों में तक़सीम का फैसला

अक़लीयती फ़ाइनेन्स कारपोरेशन के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स का इजलास आज हैदराबाद में मुनाक़िद हुआ जिस में रियासत की तक़सीम के साथ साथ कारपोरेशन की तक़सीम के हक़ में क़रारदाद मंज़ूर की गई। सदर नशीन मुहम्मद हिदायत ने इजलास के सदारत की।

अक़लीयती फ़ाइनेन्स कारपोरेशन के बोर्ड ऑफ़ डायरेक्टर्स का इजलास आज हैदराबाद में मुनाक़िद हुआ जिस में रियासत की तक़सीम के साथ साथ कारपोरेशन की तक़सीम के हक़ में क़रारदाद मंज़ूर की गई। सदर नशीन मुहम्मद हिदायत ने इजलास के सदारत की।

कमिशनर अक़लीयती बहबूद शेख मुहम्मद इक़बाल, मैनेजिंग डायरेक्टर अक़लीयती फ़ाइनेन्स कारपोरेशन प्रोफेसर एस ए शकूर के इलावा डायरेक्टर्स और दीगर ओहदेदारों ने शिरकत की। इजलास में कारपोरेशन की तक़सीम के इलावा बजट, मुलाज़मीन और कारपोरेशन के असासाजात की तक़सीम का भी जायज़ा लिया गया।

बताया जाता है कि अक़लीयती फ़ाइनेन्स कारपोरेशन की जारीया स्कीमात पर अमल आवरी का भी इजलास ने जायज़ा लिया और इंतिख़ाबी ज़ाब्ता अख़लाक़ की तकमील के बाद स्कीमात पर अमल आवरी जारी रखने का फैसला किया गया।

कारपोरेशन के लिए मुख़तस कर्दा बजट आंध्र प्रदेश को 58 फ़ीसद जबकि तेलंगाना के लिए 42 फ़ीसद मुख़तस किया जाएगा। हुकूमत ने अक़लीयती बहबूद के लिए जो बजट मुख़तस किया है, रियासत की तक़सीम के बाद उस की बाक़ायदा इजराई अमल में आएगी।

TOPPOPULARRECENT