आइपीएस रॉय ने मांगी केंद्र में प्रतिनियुक्ति

आइपीएस रॉय ने मांगी केंद्र में प्रतिनियुक्ति
अहमदाबाद [सीयासत न्युज ब्युरो]। मश्हुर‌ गेंगस्टर सोहराबुद्दीन फर्जी एन्काउन्टर‌ मामले में गुजरात और राजस्थान के तीन आइपीएस ओफीसरान‌ को गिरफ्तार करके सीयासी गलियारों और‌ पुलिस बेडे में खलबली मचा देने वाले आइपीएस रजनीश रॉय प्र

अहमदाबाद [सीयासत न्युज ब्युरो]। मश्हुर‌ गेंगस्टर सोहराबुद्दीन फर्जी एन्काउन्टर‌ मामले में गुजरात और राजस्थान के तीन आइपीएस ओफीसरान‌ को गिरफ्तार करके सीयासी गलियारों और‌ पुलिस बेडे में खलबली मचा देने वाले आइपीएस रजनीश रॉय प्रतिनियुक्ति पर केंद्र सरकार में जाना चाहते हैं। रॉय ने गुजरात सरकार से प्रतिनियुक्ति पर जाने की मंजूरी मांगी है, जिसकी खबर‌ खुद वजारत ए दाखिला ने भी कर दी है।

गुजरात कैडर के आइपीएस ओफिसर‌ रजनीश रॉय काफि मुद्दत‌ से स्टडी लीव पर थे। वह एमबीए करने के बाद कुछ माह पहले ही वापस सेवा में लौटे थे। गुजरात सरकार की तरफ‌ से उन्हें लीव रिजर्व में रखा गया था। सरकार की उपेक्षा के चलते रजनीश रॉय ने केंद्र सरकार की प्रतिनियुक्ति पर जाने की स्वीकृति मांगी है।

वजारत दाखला के मुख्य सचिव एसके नंदा ने बताया है कि रॉय कि दरखास्त वजारत दफतर‌ में है। इससे पहले आइपीएस कुलदीप शर्मा भेड़ भि इस‌ विभाग की नौकरी छोड़कर केंद्र में चले गए थे।

सेवानिवृत्ति के बाद वह केंद्रीय गृह मंत्रालय में बतौर सलाहकार सेवाएं दे रहे हैं, जबकि आइपीएस अजय तोमर भी केंद्र में प्रतिनियुक्ति पर हैं।

Top Stories