Tuesday , May 22 2018

आईएसआई का जासूस या नहीं? अधिकारियों ने दिल्ली हवाई अड्डे पर उतरे ‘कॉन्ट्रैक्ट किलर’ के दावों की जांच शुरू करी

इंटेलिजेंस एजेंसियां ​​अभी तक उस व्यक्ति के पूर्ववर्तीकरण की पुष्टि कर रही हैं जिसने दवा किया है की वो पाकिस्तान की गुप्तचर एजेंसी, ‘इंटर सर्विस इंटेलिजेंस (आईएसआई)’ के लिए एक कॉन्ट्रैक्ट किलर के रूप में काम करता है और जिसने भारत में शरण मांगी है।

व्यक्ति की पहचान ‘अहमद मोहम्मद’ के रूप में की गयी है जो पाकिस्तान के पंजाब प्रांत के फैसलाबाद का रहने वाला है।

‘मुहम्मद’ शुक्रवार को जब ‘इंदिरा गांधी अंतर्राष्ट्रीय हवाईअड्डे’ पर पहुंचा तब इंटेलिजेंस ब्यूरो (आईबी) के गुप्तचरों ने उससे पूछताछ शुरू कर दी।

संभावना है की शनिवार को श्रीनगर से लौटने के बाद आईबी के काउंटर-इंटेलिजेंस प्रमुख भी ‘मोहम्मद’ से पूछताछ करेंगे।

उसके पास पाकिस्तानी पासपोर्ट पाया गया है जिसका नंबर – केएफ 088779 है और जिसमे उसकी जन्म तिथि 9 जुलाई 1978 दर्शायी गयी है, सूत्रों ने बताया।

सूत्रों ने बताया, वह एयर इंडिया से दिल्ली पहुंचा था और शुक्रवार सुबह नेपाल के लिए प्रस्थान करने वाला था।

‘मोहम्मद’ ने कथित रूप से पूछताछकर्ताओं को बताया कि वह आईएसआई के लिए काम करता है लेकिन अब भारत के लिए काम करना चाहता है।

समाचार रिपोर्ट में बताया गया है कि ‘मोहम्मद’ ने आईबी के अधिकारीयों को बताया की आईएसआई ने उसके परिवार को बंधक बनाया हुआ है ताकि वे उससे एक कॉन्ट्रैक्ट किलर के रूप मे काम ले सकें।

भारत और पाकिस्तान दोनों ने अक्सर एक-दूसरे के जासूसों की गिरफ्तारी की घोषणा की है लेकिन ऐसे एजेंट जो दुश्मन के देश के लिए काम करने की इच्छा ज़ाहिर करें वैसे उदाहरणों दुर्लभ मिलते है।

TOPPOPULARRECENT