Saturday , January 20 2018

आई एस आई के साबिक़ सरब्राह इक़्तिदार पर क़ब्ज़ा करना चाहते थे

वज़ीरे आज़म नवाज़ शरीफ़ की काबीना के अहम रुक्न और क़रीबी साथी मुशाहिद उल्लाह ख़ान ने कहा है कि पिछले साल इस्लामाबाद में तहरीके इन्साफ़ और अवामी तहरीक के धरनों के दौरान पाकिस्तानी इन्टेलीजेंस एजेंसी आई एस आई के उस वक़्त के सरब्राह लेफ़्टीनेंट जेनरल ज़हीरुल इस्लाम अब्बासी ने एक साज़िश तैयार की थी जिसके ज़रीए वो फ़ौजी और सिविल क़ियादत को हटा कर मुल्क पर क़ब्ज़ा करना चाहते थे।

मुशाहिद उल्लाह ख़ान के बाक़ौल इस साज़िश का इन्किशाफ़ उस वक़्त हुआ जब पाकिस्तान के सिवीलियन इन्टेलीजेंस इदारे इन्टेलीजेंस ब्यूरो ने लेफ़्टीनेन्ट जेनरल ज़हीरुल इस्लाम अब्बासी की टेलीफोनिक गुफ़्तगु टेप की जिसमें वो मुख़्तलिफ़ लोगों को हिदायात दे रहे थे कि धरने के दौरान किस तरह अफ़रातफ़री फैलानी है और वज़ीरे आज़म हाऊस पर क़ब्ज़ा करना है।

TOPPOPULARRECENT