Monday , December 18 2017

आई ए ई ए और ईरान इश्तिराक पर रज़ामंद

अक़वामे मुत्तहिदा के जौहरी तवानाई के इदारे और ईरान के माबैन इश्तिराक का एक मुआहिदा तय पा गया है जबकि दूसरी तरफ़ अमरीका ने तेहरान हुकूमत की तरफ़ से यूरेनियम की अफ़ज़ूदगी के हक़ पर सवालिया निशान लगा दिया है।

अक़वामे मुत्तहिदा के जौहरी तवानाई के इदारे और ईरान के माबैन इश्तिराक का एक मुआहिदा तय पा गया है जबकि दूसरी तरफ़ अमरीका ने तेहरान हुकूमत की तरफ़ से यूरेनियम की अफ़ज़ूदगी के हक़ पर सवालिया निशान लगा दिया है।

फ़्रांसीसी ख़बररसां इदारे ने तेहरान से मौसूला रिपोर्टों के हवाले से बताया है कि अक़वामे मुत्तहिदा की बैनुल अक़वामी एजेंसी बराए जौहरी तवानाई IAEA के सरब्राह यूकियो अमानो और ईरानी जौहरी प्रोग्राम के सरब्राह अली अकबर सालेही ने पीर को तआवुन के इस मुआहिदे पर दस्तख़त कर दिए हैं।

अपने दौरे ईरान के दौरान अमानो ने सालेही के साथ प्रैस कान्फ़्रैंस के दौरान इस मुआमलत को एक अहम पेशरफ़्त क़रार दिया। उन्हों ने मुहतात रवैय्या इख़्तियार करते हुए ये भी कहा कि तेहरान के मुतनाज़ा जौहरी प्रोग्राम से मुताल्लिक़ ख़दशात दूर करने के लिए अभी मज़ीद बहुत कुछ करने की ज़रूरत है इन्ही में पारचीन का फ़ौजी अड्डा भी शामिल है।
ये वही अस्करी तंसीब है, जहां खु़फ़ीया मालूमात के मुताबिक़ शायद जौहरी हथियारों की तैयारी से मुताल्लिक़ रिसर्च की जाती है।

TOPPOPULARRECENT