Thursday , June 21 2018

आई टी सनअत रिसर्च पर तवज्जा मर्कूज़ करे

हैदराबाद 06 जनवरी: गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन ने आज आई टी सनअत को मश्वरा दिया कि वो दरआमदात पर इन्हिसार को कम से कम करने के लिए रिसर्च और तरक़्क़ी पर ज़्यादा तवज्जा करें।

हैदराबाद 06 जनवरी: गवर्नर ई एस एल नरसिम्हन ने आज आई टी सनअत को मश्वरा दिया कि वो दरआमदात पर इन्हिसार को कम से कम करने के लिए रिसर्च और तरक़्क़ी पर ज़्यादा तवज्जा करें।

उन्हों ने आई टी-ओ-आई टी ई एस इंडस्ट्री एसोसी एशन आफ़ आंध्र प्रदेश की टैक्नालोजी डे तक़ारीब से इफ़्तिताही ख़िताब करते हुए कहा कि वो नहीं कहते कि आई टी सनअत को मालिया पैदा करने पर तवज्जा नहीं करना चाहीए ।

इन का सवाल ये है कि हम ने रिसर्च और डेवलपमंट के मुआमले में क्या किया है । हम तवील मुद्दत में सिर्फ़ दरआमदात पर इन्हिसार नहीं करसकते ।

नरसिम्हन ने कहा कि आई टी सनअत को कुछ उमूर में सेक्यूरिटी मसाइल दरपेश हैं जिन में गूगल मैपिंग और कलोनिंग भी शामिल हैं। किसी एक जगह बैठ कर कोई भी किसी मख़सूस मुक़ाम का तफ़सीली जायज़ा ले सकता है और एसे कोई मसला दरपेश नहीं होसकता ।

हमारे पास एसी टैक्नालोजी है जिस से हम गूगल मैप्स को कुछ मख़सूस मुक़ामात की तफ़सीलात बताने से रोकते हैं। गवर्नर ने कहा कि आई टी सनअत को चाहीए कि वो सेक्यूरिटी एजंसियों के साथ मिल कर काम करें ताकि एसे मसाइल की यकसूई होसके ।

सनअत को चाहीए कि वो एक एसा मेकानिज़म भी तयार करे जिस से आम आदमी को भी सहूलतें मिलने यक़ीनी हूजाएं। नरसिम्हन ने कहा कि आंध्र प्रदेश जहां तेलंगाना रियासत के मुतालिबा काफ़ी एहतिजाज हुआ है सॉफ्टवेर इंडस्ट्री और दुसरे कारोबार के लिए एक महफ़ूज़ मुक़ाम है ।

एसोसीएशन के सदर वे राजना ने कहा कि रियासत में एसी सलाहियत है कि वो आई टी शोबे में अव्वल मुक़ाम हासिल करसकता है और एसोसीएशन ने इस सिलसिले में हुकूमत को 10 नकाती लायेहा-ए-अमल भी पेश किया है ।

TOPPOPULARRECENT