Monday , December 18 2017

आकाश मिज़ाईल का एक और कामयाब तजुर्बा

जल सेना के इस्तेमाल के लिए ज़मीन से फ़िज़ा में मार करने वाले आकाश मिज़ाईल का आज एक बार फिर कामयाब तजुर्बा किया गया। वज़ारत-ए-दिफ़ा के ज़राए ( सूत्रों) के मुताबिक़ चांदी पुर में वाक़्य (मौजूद) इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज (आई टी आर) से इस मिज़ाईल का

जल सेना के इस्तेमाल के लिए ज़मीन से फ़िज़ा में मार करने वाले आकाश मिज़ाईल का आज एक बार फिर कामयाब तजुर्बा किया गया। वज़ारत-ए-दिफ़ा के ज़राए ( सूत्रों) के मुताबिक़ चांदी पुर में वाक़्य (मौजूद) इंटीग्रेटेड टेस्ट रेंज (आई टी आर) से इस मिज़ाईल का तजुर्बा किया गया जो सभी पैमानों पर खरा उतरा।

ये मिज़ाईल 60 किलो ग्राम कर हर्बा (हथियार) लेकर 25 किलो मीटर तक मार कर सकता है। इस मिज़ाईल को मोबाइल लाँचर से दाग़ा गया। इससे पहले 24 मई , 26 मई और यक्म ( १) जून को भी ऐसी मिज़ाईल का कामयाब तजुर्बा किया जा चुका है। तय्यारा शिकन (विमान भेदी तोप) निज़ाम पर मबनी आकाश मिज़ाईल राजेंद्र रडार की मदद से बहुत से एहदाफ़ की निशानदेही करके उन्हें एक साथ निशाना बना सकता है।

आई टी आर के ज़राए ( सूत्रों)के मुताबिक़ आकाश मिज़ाईल की रफ़्तार आवाज़ ढाई गुना ज़्यादा है जो तेज़ी से उड़ान भरने के साथ ही 18 किलो मीटर की ऊंचाई पर पहुंच सकता है।

TOPPOPULARRECENT