आखरी मरहले में सबसे ज़्यादा 71 % वोटिंग

आखरी मरहले में सबसे ज़्यादा 71 % वोटिंग
झारखंड के एसेम्बली इंतिख़ाब में टोटल 66 फीसद वोटिंग हुए। इसी साल हुए लोकसभा इंतिख़ाब के मुकाबले वोट फीसद में दो फीसद की इजाफा दर्ज की गयी। 2009 के एसेम्बली इंतिख़ाब से तकरीबन 12 फीसद ज़्यादा वोट पड़े। इस बार एसेम्बली के लिए सनीचर को पांचवे

झारखंड के एसेम्बली इंतिख़ाब में टोटल 66 फीसद वोटिंग हुए। इसी साल हुए लोकसभा इंतिख़ाब के मुकाबले वोट फीसद में दो फीसद की इजाफा दर्ज की गयी। 2009 के एसेम्बली इंतिख़ाब से तकरीबन 12 फीसद ज़्यादा वोट पड़े। इस बार एसेम्बली के लिए सनीचर को पांचवें और आखरी मरहले में सबसे ज़्यादा वोटिंग हुआ। 16 सीटों पर टोटल 70.94 फीसद वोट पड़े।

पाकुड़ में सबसे ज़्यादा वोटिंग
आखरी मरहले में सबसे ज़्यादा वोटिंग पाकुड़ में हुआ। यहां 75.50 फीसद वोटरों ने अपने वोटिंग का इस्तेमाल किया। सारठ में 75.47 फीसद और महेशपुर एसेम्बली सीट के लिए 75 फीसद वोटरों ने वोट डाले। इस मरहले में सबसे कम दुमका एसेम्बली सीट के लिए 3 फीसद वोट पड़े। यहां से वजीरे आला हेमंत सोरेन खुद इंतिख़ाब लड़ रहे हैं।

Top Stories