Monday , November 20 2017
Home / Religion / आगरा: दो धार्मिक स्थलों की मूर्तियां खंडित मिलने से इलाके में तनाव

आगरा: दो धार्मिक स्थलों की मूर्तियां खंडित मिलने से इलाके में तनाव

आगरा: आगरा के ख्वासपुरा और कमाल खां दरगाह के बीच में दो धर्मस्थलों पर असामाजिक तत्वों ने शहर की फिजा खराब करने की कोशिश की. शाहगंज के ख्वासपुरा में दो धर्मस्थलों में सोमवार रात को प्रतिमाएं खंडित करने और दानपत्र चोरी करने का मामला सामने आया है. जिस से मंगलवार सुबह क्षेत्र में तनाव फैल गया. लोग सड़क पर उतरकर हंगामा करने लगे. VHP और बजरंग दल कार्यकर्ताओं ने जगनेर रोड पर जाम लगाकर हंगामा किया. आनन-फानन में पुलिस अधिकारी पहुंचे. कार्रवाई का आश्वासन देकर मामला शांत किया.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

अमर उजाला के ख़बरों के अनुसार, ख्वासपुरा और कमाल खां दरगाह के बीच में दो धर्मस्थल हैं. यह इलाका मिश्रित आबादी बाहुल्य क्षेत्र है. मंगलवार सुबह एक धर्मस्थल में क्षेत्र की रहने वाली मंगलिया पूजा-अर्चना के लिए आईं तो प्रतिमा खंडित मिली. दानपात्र नहीं मिला. दूसरे धर्मस्थल में भी प्रतिमा खंडित थी. झालर भी चोरी कर ली गईं. धर्मस्थल में प्रतिमाएं खंडित होने की जानकारी कुछ ही देर में पूरे इलाके में फैल गई. बड़ी संख्या में लोग जुट गए.

पूर्व मंत्री डा. रामबाबू हरित, भाजपा नेता हेमेंद्र शर्मा, विश्व हिंदू परिषद (विहिप) के प्रांत उपाध्यक्ष सुनील पाराशर, बजरंग दल महानगर संयोजक बंटी ठाकुर कार्यकर्ताओं के साथ पहुंच गए. उन्होंने नारेबाजी शुरू कर दी. इससे इलाके में सांप्रदायिक तनाव फैल गया. लोग खेरिया मोड़ पुलिस चौकी पर पहुंचकर हंगामा करने लगे. बाद में बड़ी संख्या में महिलाओं और पुरुषों ने जगनेर रोड पर कमाल खां के पास जाम लगा दिया. इससे दोनों तरफ वाहनों की लाइन लग गई.

सूचना पर कई थानों की पुलिस फोर्स के साथ सीओ लोहामंडी श्यामकांत और हरीपर्वत अनुराग वत्स पहुंचे. उन्होंने कहा कि मामले में अज्ञात आरोपियों के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर लिया गया है. उन्होंने आरोपियों पर कार्रवाई का आश्वासन दिया. लोगों की पुलिस से भी तीखी नोंकझोंक हुई. अधिकारियों के आश्वास पर ही तीन घंटे बाद जाम खोला जा सका.

जगनेर रोड पर कमाल खां के पास तीन घंटे जाम लगाने पर पुलिस ने 100 से ज्यादा अज्ञात लोगों के खिलाफ मुकदमा दर्ज किया है. पुलिस का कहना है कि वीडियो फुटेज के आधार पर आरोपियों की पहचान की जाएगी.

TOPPOPULARRECENT