Friday , November 24 2017
Home / Bihar News / आजादी के बाद चंद हाथों में रहा मुल्क का पैसा : लालू प्रसाद

आजादी के बाद चंद हाथों में रहा मुल्क का पैसा : लालू प्रसाद

पटना : लालू प्रसाद यादव ने कहा है कि आजादी के बाद मुल्क का पैसा चंद हाथों में रह गया। 80 फीसद आबादी जिसमें अक़लियत, गरीब, दलित वगैरह हैं उन्हें मट्ठा तक नहीं मिला। जो वसायाल है उसे ईमानदारी से समाज के आखरी सख्श तक पहुंचाना होगा। गम जाहिर करते हुये कहा की आज भी मुल्क में लोगों से भेदभाव किया जाता है। देखना है कि फरवरी में मरकज़ी हुकूमत अपना बजट बनाएगी तो उसमें गरीबों को क्या मिलता है?

पीर को होटल मौर्या में एशियन डेवलेपमेंट रिसर्च इंस्टीट्यूट (आद्री) के सिल्वर जुबली तकरीब में बतौर खुसुसि मेहमान लालू प्रसाद ने ये बातें कही। कहा कि इस पर रिसर्च होना चाहिए कि आजादी के बाद मुल्क में गरीबों की तरक्की पर कितना पैसा खर्च किया गया और क्या फायदा हुआ? नक्सलवाद से क्या नुकसान हुआ? नक्सलवाद को खत्म करने के लिए आर्मी के इस्तेमाल की बात कही गई जिसका हमने मुखालिफत किया, ऐसा होता तो बहुत लोग मारे जाते। सामाजिक इंसाफ और मंडल कमीशन से उन्होंने नक्सलवाद को खत्म किया।

आद्री के इस प्रोग्राम में भारत के रियासती इक्तिदार के लिए जद्दो-जहद की मौजू पर कर्टेन रेजर लेक्चर इंग्लैंड के इंस्टीट्यूट ऑफ कामनवेल्थ स्टडीज के इमीरीट्स प्रोफेसर जेम्स मैनर ने दिया। सदारत सेंटर फॉर पॉलिसी रिसर्च के सदर व चीफ एग्जीक्यूटिव प्रताप भानू मेहता ने की। इस्तकबाल आद्री के सेक्रेटरी शैबाल गुप्ता ने किया। इस प्रोग्राम में रियासती हुकूमत के वज़ीर बिजेंद्र प्रसाद यादव, अब्दुल गफूर, अब्दुल बारी सिद्दीकी, अनीता देवी, सीनियर भाजपा लीडर सुशील मोदी वगैरह मौजूद थे।

 

TOPPOPULARRECENT