Monday , January 22 2018

आज की फिल्मों में माँ की गुंजाइश नहीं:विजयंती माला

बाली वुड की मुअम्मर ( बूढी) अदाकारा विजयंती माला ने एक हालिया ग़ैर फ़िल्मी तक़रीब में अख़बारी नुमाइंदों की जानिब से ये पूछे जाने पर कि क्या वो फिल्मों में दुबारा जलवागर होना पसंद करेंगी, जवाब दिया कि ऐसा हरगिज़ नहीं हो सकता ।

बाली वुड की मुअम्मर ( बूढी) अदाकारा विजयंती माला ने एक हालिया ग़ैर फ़िल्मी तक़रीब में अख़बारी नुमाइंदों की जानिब से ये पूछे जाने पर कि क्या वो फिल्मों में दुबारा जलवागर होना पसंद करेंगी, जवाब दिया कि ऐसा हरगिज़ नहीं हो सकता ।

आँजहानी (स्वर्गीय) राजेंदर कुमार के साथ फ़िल्म गंवार उन की आख़िरी फ़िल्म थी हालाँकि यश चोपड़ा ने फ़िल्म दीवार में अमिताभ बच्चन और शशी कपूर की माँ के रोल के लिए उनसे राबिता (संबंध) क़ायम किया था |

लेकिन उन्होंने यश चोपड़ा की पेशकश कुबूल नहीं की थी । बादअज़ां(इसके बाद)वो रोल निरूपा राय ने निभाया था । विजयंती माला ने कहा कि इन की हमअसर अदाकाराओ जैसे साधना और माला सिन्हा ने भी माँ के रोल नहीं किए । वो उस वक़्त फ़िल्मी दुनिया से दूर हो गए जब इन का सितारा हनूज़ बुलंदी पर था ।

वहीदा ने हालाँकि माँ के रोल ( किरदार) किए लेकिन अब उन की मसरुफ़ियात भी कम हो गई हैं । विजयंती माला ने कहा कि अब फिल्मों की कहानीयों में माँ के लिए कोई गुंजाइश नहीं है । आज के दौर में उन के पसंदीदा अदाकारों के बारे में पूछे जाने पर उन्हों ने कोंकणा सेन शर्मा ,आमिर ख़ान और बोमन ईरानी का नाम लिया।

TOPPOPULARRECENT