Thursday , September 20 2018

आज कोलकता का दिल्ली डेयर डेविल्स से मुक़ाबला

गुज़शता चार सीज़नों में कोई वाज़िह कामयाबी हासिल ना करने वाली दो टीमें कोलकता नाईट रायडर्स और दिल्ली डेयर डेविल्स पांचवें सीज़न में अपनी क़िस्मत को बदलने की कोशिश के साथ कल यहां कोलकता के तारीख़ी मैदान ईडन गार्डन में आई पी एल 5 की मु

गुज़शता चार सीज़नों में कोई वाज़िह कामयाबी हासिल ना करने वाली दो टीमें कोलकता नाईट रायडर्स और दिल्ली डेयर डेविल्स पांचवें सीज़न में अपनी क़िस्मत को बदलने की कोशिश के साथ कल यहां कोलकता के तारीख़ी मैदान ईडन गार्डन में आई पी एल 5 की मुहिम का आग़ाज़ करेंगे।

दोनों ही टीमों में ऐसे खिलाड़ी मौजूद हैं जोकि टवन्टी 20 क्रिकेट के लिए बेहतर क़रार दी जा सकती है लेकिन उन्हें अपने मुज़ाहिरों में इस्तेक़लाल पैदा करना होगा ताकि वो चेन्नई सुपर किंग्स, मुंबई इंडियंस और रॉयल चैलेंजर्स बैंगलौर जैसी टीमों के लिए सख़्त मुक़ाबला पेश कर सकें।

कोलकता के कप्तान गौतम गंभीर के लिए ये टूर्नामेंट इन्फ़िरादी मुज़ाहिरों के लिए भी काफ़ी अहम होगा क्योंकि उन्हें हालिया दिनों में ही हिंदूस्तान की नायब कप्तानी से बरतरफ़ कर दिया गया है लिहाज़ा वो टाप आर्डर में बेहतर मुज़ाहरा के इलावा टीम की मजमूई फ़ुतूहात में अपनी क़ाइदाना सलाहीयतों का मुज़ाहरा करने के लिए कोशां होंगे।

नाईट रायडर्स के लिए ख़ुश आइंद ये भी है कि इस ने न्यूज़ीलैंड के धमाको ओपनर ब्रेंडन मक्कालिम को 7 लाख डॉलर्स के इव्ज़ दुबारा हासिल कर लिया है। जबकि उसकी सफ़ में वेस्ट इंडीज़ के आफ़ स्पिनर सुनील नारायण भी मौजूद हैं जिन्होंने चैम्पीयंस लीग टवन्टी 20 टूर्नामेंट के लिए गुज़शता बरस ट्रीनीडा ऐंड टोबाबो की ना सिर्फ नुमाइंदगी की बल्कि 4.37 रन फ़ी ओवर की औसत से 10 विकटें हासिल करते हुए ख़ुद को मुख़्तसर तरीन क्रिकेट का बेहतरीन बौलर साबित किया है।

सुनील के ख़िलाफ़ बेशतर टाप आर्डर बैटस्मैन जद्द-ओ-जहद करते दिखाई दिए नीज़ इन तआवुन देने के लिए बंगला देश के ऑल राउंडर शकीब उल-हसन भी टीम का हिस्सा बन चुके हैं जिन्होंने हालिया इख़तेताम पज़ीर एशीया कप और इससे क़ब्ल इफ़्तेताही बंगला देश प्रीमीयर लीग (बी पी एल) में मैन आफ़ दी टूर्नामेंट का एवार्ड भी हासिल किया है। उम्मीद की जा रही है कि ब्रेंडन मक्कालिम जैक कैलिस के हमराह इनिंग्स का आग़ाज़ करेंगे जबकि गौतम गंभीर नंबर तीन पर बैटिंग करेंगे।

मिडल आर्डर में मनोज तीवारी, शकीब उल-हसन और यूसुफ़ पठान जैसे खिलाड़ी मौजूद रहेंगे। कोलकता को यूसुफ़ पठान की शक्ल में एक ग़ैरमामूली और जारिहाना बैटस्मैन दस्तयाब है ताहम गुज़शता बरस उनके मुज़ाहिरे मयारी नहीं रहे लेकिन हालिया दिनों में मुनाक़िदा घरेलू टूर्नामैंटस में उन्होंने फिर एक मर्तबा ख़ुद को बौलर्स के लिए दर्द-ए-सर साबित कर दिया है। यूसुफ़ के इलावा लक्ष्मी रतन शुक्ला, रजत भाटिया की शक्ल में कोलकता को दीगर ऑल राउंडर्स भी दस्तयाब हैं। कोलकता के पास मुतवाज़िन बौलिंग शोबा भी मौजूद है जिस की नुमाइंदगी ब्रिट ली कर रहे हैं।

जबकि बौलिंग मुशीर की शक्ल में टीम को साबिक़ ऑल राउंडर वसीम अकरम की ख़िदमात भी दस्तयाब हैं। दूसरी जानिब दिल्ली डियर डेविल्स जिस ने 2011 में मायूसकुन मुज़ाहिरों के बाद आख़िरी मुक़ाम हासिल किया था और इसके नाम सिर्फ चार फ़ुतूहात दर्ज थीं लेकिन इस मर्तबा टीम का बैटिंग और फ़ास्ट बौलिंग शोबा ताक़तवर है।

सहवाग की क़ियादत में रास टेलर फ़िलहाल दिल्ली को दस्तयाब हैं जबकि महेला जय वरधने, कियून पीटरसन और डेविड वार्नर की आमद इस टीम को मज़ीद ताक़तवर बना देगी। मज़कूरा खिलाड़ियों की फ़िलहाल अदम दस्तयाबी के बाद सहवाग नमन ओझा और वीनू गोपाल को ज़ाइद ज़िम्मेदारी निभानी पड़ेगी। जबकि वेस्ट इंडीज़ के ऑल राउंडर एंड्रयू रसुल टीम में अपनी मौजूदगी का एहसास दिलाने के लिए कोशां होंगे।

दिल्ली का फ़ास्ट बौलिंग शोबा काफ़ी ताक़तवर है जिसमें मिर्नी मोर्कल, इर्फ़ान पठान, ऊमेश यादव और वरूण अरूण काबिल-ए-ज़िकर नाम हैं। मुक़ाबला का आग़ाज़ रात आठ बजे होगा।

TOPPOPULARRECENT