Wednesday , September 26 2018

आज रांची बंद, सड़क पर उतरे लोग

रांची 27 अप्रैल : डोरंडा में बच्ची के साथ हुए इस्मत रेज़ी व क़त्ल के खिलाफ झामुमो रांची शहर ने जुमा को मशाल जुलूस निकाला। शहर सदर अंतु तिर्की ने कहा है कि मुलजिमों की सख्त सजा नहीं दी जाती है तो झामुमो तहरीक करेगा।

रांची 27 अप्रैल : डोरंडा में बच्ची के साथ हुए इस्मत रेज़ी व क़त्ल के खिलाफ झामुमो रांची शहर ने जुमा को मशाल जुलूस निकाला। शहर सदर अंतु तिर्की ने कहा है कि मुलजिमों की सख्त सजा नहीं दी जाती है तो झामुमो तहरीक करेगा।

इस्मत रेज़ी को रोकने को पुलिस इंतेजामिया पूरी तरह नाकाम रही है। जुलूस में असरफ खान, राजेश सिंह, एजाज शाह, हेमलाल मेहता, मंटु लाला, अरुण कुमार, रशीद खान समेत दीगर दुसरे लोग शामिल थे।

आइएमएस ने कहा मुलजिमों को फांसी दो

इस्मत रेज़ी के खिलाफ में रांची यूनिवर्सिटी के तहत इंस्टीटय़ूट ऑफ मैनेजमेंट स्टडीज के तालिब इल्मों ने मोरहाबादी से मेन रोड तक रैली निकाली. तालिब इल्म मुलजिमों को फांसी दो, महिलाओं को सिक्यूरिटी दो लिखी तख्तियां लिये थे.
रैली में ओम प्रकाश मिश्र, डॉ एके चट्टोराज, एसएल बख्शी, चिन्मय, वसी आलम, मेधा, निहारिका, नम्रता, एनआर त्रिपाठी, प्रभात श्रीवास्तव, माजिद कमाल, मो साजिद, प्रकाश चंद्रा वगैरह शामिल थे।

थानेदार ने जब हकीक़त बतायी, तो लौट गये लोग

मुलजिम मो सद्दाम की गिरफ्तारी के खिलाफ में कुरैशी मुहल्ला के लोगों ने रात लगभग 10.30 बजे डोरंडा थाने का घेराव किया। उन्होंने कहा कि यदि सद्दाम मुलजिम है, तो उसे जेल भेजें, नहीं तो रिहा कर दें। थाना इंचार्ज मो फोजैल अहमद ने उन्हें सच्चई बतायी और कहा कि सद्दाम के खिलाफ कई सुबूत मिले हैं। यह सुनने के बाद घेराव करनेवाले लौट गये।

बच्चियों ने सद्दाम को पहचाना

मो सद्दाम की सिनाख्त के लिए मुर्दा बच्ची की सहेलियों को लाया गया. उन्होंने सद्दाम को पहचाना और कहा कि यही अंकल हर दिन उसे आइसक्रीम और टॉफी दिया करते थे। उस दिन भी टॉफी और आइसक्रीम दिया था।

TOPPOPULARRECENT