Saturday , November 25 2017
Home / Khaas Khabar / आतंकवाद का कोई धर्म नहीं, कांग्रेस मालेगांव विस्फ़ोट पर कर रही है राजनीति: शिवसेना

आतंकवाद का कोई धर्म नहीं, कांग्रेस मालेगांव विस्फ़ोट पर कर रही है राजनीति: शिवसेना

मुंबई: मालेगांव विस्फोट मामले में कांग्रेस पार्टी द्वारा लगाये गये आरोपों का जवाब देते हुए शिव सेना ने कहा कि इस पूरे मामले का यूपीए सरकार के दौरान राजनीतिकरण किया गया था|
शिवसेना नेता संजय राउत ने आईएएनएस से बात करते हुए कहा कि जिस तरह से कांग्रेस पार्टी द्वारा मालेगांव विस्फोट का राजनीतिकरण किया गया  यह देश के हित में नहीं था।
उन्होंने कहा कि जो लोग इस मामले में निर्दोष लोगों को हिंदु आतंकवादियों के रूप में पेश कर रहे हैं उनको पता होना चाहिए कि आतंकवाद का कोई धर्म या रंग..नहीं होता है और संप्रग सरकार के शासन के दौरान एनआईए ने जो सबूत इकठ्ठा किये थे वो नकली थे|

राउत ने आगे कहा कि कांग्रेस पार्टी इस मामले से सबक सीखते हुए अतीत में जो भी हुआ उसको नहीं दोहराएगी| कांग्रेस पार्टी ने 2008 के मालेगांव विस्फ़ोट मामले में एनआईए के यू-टर्न के लिए प्रधानमंत्री कार्यालय को जिम्मेदार ठहराते हुए कल मांग की है कि इस मामले की जांच सुप्रीम कोर्ट की निगरानी में करायी जाए|

कांग्रेस नेता आनंद शर्मा शर्मा ने एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि “एनआईए (राष्ट्रीय जांच एजेंसी) ‘नमो जांच एजेंसी’ बन गया है”| उन्होंने आरोप लगाया कि इस चार्जशीट के ज़रिये आईपीएस अधिकारी हेमंत करकरे के नेतृत्व में महाराष्ट्र एटीएस द्वारा की गयी जांच को ख़त्म कर दिया गया है |

जबकि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) ने इससे पहले कांग्रेस पर आरोप लगाते हुए कहा था कि कांग्रेस ने इस मामले में साध्वी प्रज्ञा सिंह ठाकुर फंसाया है और  भाजपा के राष्ट्रीय सचिव श्रीकांत शर्मा ने कहा कि कांग्रेस को एनआईए के फैसले पर राजनीति नहीं करते हुए इस मामले में की गयी साजिश के लिए प्रायश्चित करना चाहिए|

TOPPOPULARRECENT