आतंकवाद की समस्या से निपटने के लिए पाकिस्तान का साथ जरुरी- अमेरिका

आतंकवाद की समस्या से निपटने के लिए पाकिस्तान का साथ जरुरी- अमेरिका

वाशिंगटन। अमरीकी राष्‍ट्रपति डोनाल्‍ड ट्रंप द्वारा दक्षिण एशिया नीति की घोषणा के बाद अमरीका के पहले शीर्ष अधिकारी जिम मैटिस पाकिस्‍तान का दौरा करेंगे।अमरीका के रक्षा सचिव जिम मैटिस ने उम्‍मीद जताई है कि अमरीका और पाक आतंक के खिलाफ मिलकर लड़ेंगे।

मैटिस ने कहा है कि आतंक के खिलाफ लड़ाई में पाकिस्‍तान को साथ लाने के लिए वे कड़ी मेहनत करेंगे जो दक्षिण एशिया के आर्थिक विकास में स्‍थिरता लाने के लिए आवश्‍यक है।

इस्‍लामाबाद दौरे से पहले मैटिस ने कहा, समस्‍या के समाधान के लिए वे पाकिस्‍तान के साथ काम करना चाहते हैं। पेंटागन का चार्ज लेने के बाद मैटिस मिस्र, जार्डन, कुवैत और पाकिस्‍तान के पांच दिवसीय दौरे पर हैं।

व्‍हाइट हाऊस ने कुछ दिनों पहले ही पाकिस्‍तान को 26/11 मुंबई हमले के मास्‍टरमाइंड हाफिज सईद को तुरंत गिरफ्तार करने को कहा था साथ ही ऐसा न करने पर चेतावनी भी दी थी।

मैटिस ने कहा कि उन्‍हें देश के नेताओं से बात कर उनके सुझावों को जानने की जरूरत है। ट्रंप प्रशासन की ओर से कड़ी चेतावनी के बावजूद सईद अभी भी स्‍वतंत्र घूम रहा है।

हमेशा की तरह ही पहली चीज जो मैं करने जा रहा हूं वह कुछ सुनना है। मेरा लक्ष्‍य दोनों देशों के बीच आतंक से प्रभावित कुछ समानताओं का पता लगाना है। मैटिस ने कहा, ‘मुझे वहां जाने की जरूरत है, बैठ कर उन्‍हें सुनने की आवश्‍यकता है।

Top Stories