Thursday , December 14 2017

आतंकवाद के आरोप में 13 लोगों को 5 साल कैद

बेंगलुरु: एनआईए की एक अदालत ने लश्कर-ए-तैयबा और हरकतुल जिहादे इस्लामी के 13 सदस्यों को पांच साल कैद की सजा सुनाई। उन पर नेताओं पुलिस अधिकारियों और पत्रकारों की हत्या की योजना बनाने का आरोप है। आरोपियों को दोषी करार देने के बाद एनआईए मामलों के विशेष न्यायाधीश सी मरलैधर पाई फैसले की घोषणा की और कहा कि चूंकि ये लोग साढ़े तीन साल का समय जेल में बिता चुके हैं ऐसे में वह माबकी सजा के तौर पर डेढ़ साल गुज़ारा करेंगे।

उन्होंने आरोपियों को वाक्यांश 31,000 रुपये बतौर जुर्माना अदा करने का भी निर्देश दिया। विशेष एनआईए अदालत ने कल कतई सुनवाई पूरी की थी। गणतंत्र दिवस से पहले 2012 में कार्रवाई करते हुए एनआईए ने 13 लोगों को हिरासत में ले लिया था। उन पर देश के विभिन्न भागों में हत्या की योजना बनाने का आरोप लगाया गया था। इन गिरफ्तारियों के बाद देश के छह शहरों टमकोर ‘मंगलोर हैदराबाद’ मुंबई ‘बेंगलुरु और लखनऊ में भी धावे किए गए थे। खोजों के दौरान विस्फोटक पदार्थ स्थापित करने वाले सर्किट जब्त किए गए थे। एनआईए को उनके कब्जे से अपमानजनक सामग्री और दूसरा उपकरण भी मैनुअल रख़ा हुआ था।

TOPPOPULARRECENT