आतंकियों का कोई देश या मजहब और जाती नहीं होता है- सिद्धू

आतंकियों का कोई देश या मजहब और जाती नहीं होता है- सिद्धू
File Photo

पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान शहीद हो गए हैं। इस घटना पर अब मंत्री नवजोत सिंह सिद्धू का बयान सामने आया है, जानिए क्या कहा उन्होंने।

पुलवामा में सीआरपीएफ पर हुए आतंकी हमले में 40 जवान मारे गए हैं। हस घटना पर अब मंत्री नवजोत सिद्धू का बयान सामने आया है। उन्होंने कहा कि बातचीत से ही समस्या का हल निकलेगा, गालियों से नहीं। इसका परमानेंट समाधान करना होगा, आखिर कब तक हमारे जवान इस तरह शहीद होते रहेंगे।

अमर उजाला पर छपी खबर के अनुसार, सिद्धू ने कहा कि इस हमले की पूरी दुनिया में निंदा होनी चाहिए। इस हमले की तह तक जाकर आरोपियों को कड़ी से कड़ी सजा दी जानी चाहिए। यह बेहद दर्दनाक और खौफनाक हादसा है, जिसने भारत देश को हिलाकर रख दिया है। झकझोर दिया है भारतीय जनता को इस निदंनीय घटना ने।

सिद्धू ने कहा कि पुलवामा में जो हमला हुआ है, वह बेहद कायरतापूर्ण हरकत है। उसकी वह कड़े शब्दों में निंदा करते हैं। साथ ही उन्होंने कहा कि आतंकवाद का कोई देश नहीं होता। आतंकियों का कोई मजहब नहीं होता। उनकी कोई जात नहीं होती।

Top Stories