Friday , January 19 2018

आतिशज़नी का निशाना बनने वाले फ़लस्तीनी ख़ानदान के सरब्राह भी हलाक

मक़बूज़ा ग़र्बे उर्दन में आतिशज़नी का निशाना बनने वाले ख़ानदान के सरब्राह साद अल दवाबशा भी ज़ख़्मों की ताब ना ला कर चल बसे हैं। ये हमला 31 जुलाई को नॉबेल्स के क़रीब दोमा नामी गांव में किया गया था जिसमें साद के मकान को रात गए आग लगाई गई थी।

इस आग में उनका डेढ़ साला बच्चा अली साद जल कर हलाक हो गया था जबकि वो ख़ुद, उनकी अहलिया और एक बेटा शदीद ज़ख़्मी हुए थे। साद ने इसराईल के एक हस्पताल में सनीचर को दम तोड़ा।

इस वाक़िये में वो बुरी तरह जल गए थे जबकि उनकी अहलिया और दूसरे बेटे की हालत भी नाज़ुक बताई जा रही है। 32 साला साद को दोमा में ही सुपुर्दे ख़ाक किया गया है और उनकी नमाज़े जनाज़ा में सैंकड़ों अफ़राद ने शिरकत की।

TOPPOPULARRECENT