आधार कार्ड की लाजमियत खत्म करने की कार्रवाई

आधार कार्ड की लाजमियत खत्म करने की कार्रवाई
एलपीजी के सारफीन का कंफ़यूज़न दूर होने का नाम नहीं ले रहा है। जिन सारफीन ने अपने कनेक्शन को आधार कार्ड से जोड़ रखा है उन्होने अभी भी सबसिडी का फाइदा उनके अकाउंट से मिल रहा है। दूसरी जानिब सॉफ्टवेर में मसायल के सबब अकाउंट में सबसिडी का

एलपीजी के सारफीन का कंफ़यूज़न दूर होने का नाम नहीं ले रहा है। जिन सारफीन ने अपने कनेक्शन को आधार कार्ड से जोड़ रखा है उन्होने अभी भी सबसिडी का फाइदा उनके अकाउंट से मिल रहा है। दूसरी जानिब सॉफ्टवेर में मसायल के सबब अकाउंट में सबसिडी का पैसा भी नहीं आ पा रहा है। इसी दरमियान आधार कार्ड की लाज़मियत को खत्म करने का अमल भी शुरू हो गया है। अभी तक तो अफसर इसमें एक हफ्ता लगने की बात कह रहे थे लेकिन इस में ज़्यादा वक़्त लग सकता है।

नये सिस्टम को नाफीद करने की लिए नया सोफ्टवेयर फरोख्त किया जा रहा है अभी तक इस सॉफ्टवेयर डीलर को देने में 10 दिनों का वक़्त लग जाएगा। ये सॉफ्टवेयर भी पुराने सॉफ्टवेयर भी पुराने सॉफ्टवेयर की तरह ही है इस में थोड़ी तबदीली की गयी है। आधार कार्ड से जनवरी तक करीब 2 लाख सारफीन जुड़ चुके थे। उन्हें तेल कंपनियों के डाटाबेस से जोड़ा जा चुका था। उन्हे मुतल्का बैंक से भी लिंक किया गया था। तेल कंपनियाँ अब इस डाटाबेस को बदलने की तैयारी कर रही है। अभी तक इसे 7 अप्रैल तक पूरा करने का निशाना रखा गया था लेकिन सॉफ्टवेयर में आ रही दिक़्क़तों के सबब इस में मजीद वक़्त लगेगा। इंडियन ऑइल के चीफ़ एरिया मैनेजर उदय कुमार ने बताया के डाटा को दूसरे सॉफ्टवेयर में ट्रांसफर करने में वक़्त लगेगा।

Top Stories