Sunday , July 22 2018

आने वाली है जौन एलिया की हिंदी किताब ..

गुडगाँव : गुडगाँव के “एनीबुक” (anybook) पब्लिकेशन ने फेसबुक के ज़रिये कुछ रोज़ पहले ये एलान किया था कि वो उर्दू के मशहूर शाइर जौन एलिया की किताब को हिंदी में प्रकाशित करने जा रहे हैं. हाल ही में जब हमने anybook पब्लिकेशन के मालिक और शाइर पराग अग्रवाल से बात की तो उन्होंने बताया कि किताब अंतिम दौर में है और जल्द ही अदब के शौक़ीनों के हाथ में होगी. उन्होंने बताया कि सबसे पहले वो जौन की मशहूर किताब या’नी रिलीज़ करेंगे और उसके बाद उनके बाक़ी मजमुए.

पराग ने आगे बताया कि उनका पब्लिकेशन हाउस नए और पुराने दोनों ही तरह के लिखने वालों को छापेगा, उन्होंने कहा “जो भी लोग लिखने के शौक़ीन हैं, चाहे हिंदी में हों या उर्दू में या फिर किसी और ज़बान में, हम सबको छापना चाहते हैं”
उन्होंने कहा कि “नए लोग हमसे ईमेल या फ़ोन पे कांटेक्ट भी कर सकते हैं”

हाल ही में क़ायम हुए इस पब्लिकेशन हाउस ने अपनी पहली किताब “चाँद डिनर पर बैठा है” छापी है, इस किताब के शाइर स्वप्निल तिवारी एक नौजवान शाइर हैं, उर्दू स्क्रिप्ट में छापी गयी ये किताब आम-ओ-ख़ास सभी लोगों को पसंद आ रही है.इरशाद ख़ान सिकंदर का शे’री मजमु’आ ‘आँसूओं का तर्जुमा’ हाल ही में रिलीज़ हुई इस पब्लिकेशन की दूसरी किताब है.
([email protected])

जौन एलिया का एक शे’र :
“हमने देखा तो हमने ये देखा,
जो नहीं है वो ख़ूबसूरत है”

TOPPOPULARRECENT