Thursday , June 21 2018

आप के अतिये एक करोड़ से मुतजाविज़

अरविंद केजरीवाल का बी जे पी के विज़ारत-ए-उज़मा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का वाराण‌सी में और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुमार विश्वास को अमेठी से राहुल गांधी के ख़िलाफ़ उम्मीदवार मुक़र्रर करने का फ़ैसला एसा मालूम होता है कि पार्टी

अरविंद केजरीवाल का बी जे पी के विज़ारत-ए-उज़मा के उम्मीदवार नरेंद्र मोदी का वाराण‌सी में और आम आदमी पार्टी के उम्मीदवार कुमार विश्वास को अमेठी से राहुल गांधी के ख़िलाफ़ उम्मीदवार मुक़र्रर करने का फ़ैसला एसा मालूम होता है कि पार्टी कारकुनों की और अतीया दहिंदगान की हौसलाअफ़्ज़ाई की वजह बना है।

आम आदमी पार्टी को गुज़िश्ता 36 घंटे में एक करोड़ रुपये से ज़्यादा मालियत के अतीए हासिल हुए है।अरविंद केजरीवाल ने 2 नामवर क़ाइदीन से जारीये आम इंतेख़ाबात में मुक़ाबला के लिए पार्टी को अतीए देने की अपील की थी। मंगल की सुबह वाराण‌सी पहूंचने के बाद उन्होंने ये अपील जारी की थी।

इस के फ़ौरी बाद 24 घंटे से भी कम वक़्त में आम आदमी पार्टी को 80 लाख रुपये से ज़्यादा मालियती अतीए वसूल हुए। इस के बाद के 12 घंटों में मज़ीद 22 लाख रुपये मालियती अतीए वसूल होगए। आम आदमी पार्टी की वैब साईट और आम आदमी पार्टी की रुजहानात ज़ाहिर करनेवाली वैब साईट जो अवाम के लिए अतियों और रुजहानात पर नज़र रख रही थी और 17 अप्रैल तक कारकरद रहने वाली थी।

इस पर दस्तयाब इत्तेला के बमूजब पार्टी को 22 लाख 68 हज़ार 622 रुपये 443 अतीया दहिंदगान से हासिल हुए और जुमला 92 हज़ार 970 अतीया दहिंदगान से जिन का ताल्लुक़ 114 ममालिक, 38 रियासतों और मर्कज़ ज़ेर-ए‍इंतेज़ाम इलाक़ों से है, 620 अज़ला से उनका ताल्लुक़ है।

जुमला 27 करोड़ 92 लाख 94 हज़ार 796 रुपय मालियती अतीए दिए। इंतेख़ाबात का आग़ाज़ होचुका है। दिल्ली, महाराष्ट्रा, यूपी, कर्नाटक और हरियाणा 5 सर-ए-फ़हरिस्त रियास्तें हैं जिन्होंने आम आदमी पार्टी को अतीए दिए हैं। दीगर मुक़ामात से 4 करोड़ 70 लाख रुपये के अतीया हासिल हुए।

दिल्ली से 5 करोड़, महाराष्ट्र से 4 लाख 25 लाख , कर्नाटक से एक करोड़ 74 लाख, यू पी से 2 करोड़ 16 लाख, हरियाणा से एक करोड़ 61 लाख और दीगर मुक़ामात से 4 करोड़ 70 लाख रुपये के अतीए हासिल हुए। एक हैरतअंगेज़ इक़दाम करते हुए पार्टी ने फ़ैसला किया है कि अतीया जात की निगरानी करनेवाली वैब साईट जुमेरात से बंद करदी जाये।

अभीजीत उपाध्याए ने एक इश्तिहार वैब साईट पर शाय किया है जिस के बमूजब बढ़ती हुई टकनीकल और दीगर रुकावटों की वजह से वैब साईट बंद की जा रही है। उस की देख भाल मुश्किल होगई है। पार्टी इन तमाम अफ़राद की मशकूर है जिन्हों ने इस वैब साईट को मुम्किन बनाया और उसे अफ़सोस है कि जिन लोगों को रुजहानात से वाक़फ़ीयत की आदत होचुकी है उनकी ख़िदमत नहीं होसकेगी|

TOPPOPULARRECENT