Thursday , December 14 2017

आफरीदी पर तन्क़ीदें अब बंद होनी चाहिए: अब्दुलक़ादिर

पाकिस्तान के लीजेंडर स्पिनर अब्दुलक़ादिर महसूस करते हैं कि टीम के सीनिय‌र ऑल राउंडर शाहिद ख़ान आफरीदी पर उनके करियर के दौरान गैर ज़रूरी तन्क़ीदें की जाती रही हैं और उन्हें ये कहते हुए निशाना बनाया गया कि वो टीम की जीत में अपना रोल अदा

पाकिस्तान के लीजेंडर स्पिनर अब्दुलक़ादिर महसूस करते हैं कि टीम के सीनिय‌र ऑल राउंडर शाहिद ख़ान आफरीदी पर उनके करियर के दौरान गैर ज़रूरी तन्क़ीदें की जाती रही हैं और उन्हें ये कहते हुए निशाना बनाया गया कि वो टीम की जीत में अपना रोल अदा नहीं करते, लेकिन अब्दुलक़ादिर ने कहा कि एशिया कप में हिंदुस्तान के ख़िलाफ़ यादगार मुज़ाहिरे के बाद आफरीदी पर तन्क़ीदें अब बंद हो जानी चाहिए।

अब्दुलक़ादिर ने मीडिया से इज़हार-ए-ख़्याल करते हुए कहा कि में हमेशा ही ये कहता रहा हूँ कि आफरीदी तीन खिलाड़ियों का मुरक्कब हैं, क्यों कि वो बैटिंग, बौलिंग और फ़ील्डिंग के ज़रिया टीम की कामयाबी में अपना रोल अदा करसकते हैं। आफरीदी पर अब तन्क़ीदें बंद होनी चाहिए, कि वो टीम के सीनिय‌र खिलाड़ी होने के इलावा इज़्ज़त के हकदार‌ भी हैं और उन्हें उस वक़्त तक मौक़ा दिया जाना चाहिए, जब तक कि वो अपने खेल से लुत्फ़ अंदोज़ होरहे हैं।

34 साला आफरीदी पर मुज़ाहिरों में एतमाद की कमी की बुनियाद पर तन्क़ीदें की जाती रही हैं, लेकिन हिंदुस्तान के ख़िलाफ़ मीरपूर मुक़ाबले में उन्होंने इनिंग के आख़िरी ओवर्स में रवी चंद्रन अश्विन की दो गेंदों पर लगातार‌ दो छक्के मारते हुए टीम को एक यादगार कामयाबी से हमकनार किया है।

TOPPOPULARRECENT