Wednesday , December 13 2017

आम जलसों में हाफ़िज़ सईद की मौजूदगी पर अमरीका फ़िक्रमंद

अमरीका ने पाकिस्तान में इस हफ़्ता के अवाइल एक जल्सा-ए-आम में दहश्तगर्द लीडरों की मौजूदगी पर अपनी तशवीश का इज़हार किया है , जिन में बानी लश्कर-ए-तैबा हाफ़िज़ सईद जैसे लीडर शामिल हैं जिन पर अक़वाम-ए-मुत्तहिदा ने तहदीदात आइद कर रखी है

अमरीका ने पाकिस्तान में इस हफ़्ता के अवाइल एक जल्सा-ए-आम में दहश्तगर्द लीडरों की मौजूदगी पर अपनी तशवीश का इज़हार किया है , जिन में बानी लश्कर-ए-तैबा हाफ़िज़ सईद जैसे लीडर शामिल हैं जिन पर अक़वाम-ए-मुत्तहिदा ने तहदीदात आइद कर रखी हैं । अमरीकी एस्टेट डिपार्टमैंट ने एक बयान में पाकिस्तान को इस ख़ुसूस में अक़वाम-ए-मुत्तहिदा सलामती कौंसल की क़रारदाद की बरक़रारी और इस पर अमल आवरी के फ़र्ज़ की याद देहानी कराई ।

इत्तिफ़ाक़ से पाकिस्तान अभी हालिया जनवरी में अक़वाम-ए-मुत्तहिदा सलामती कौंसल में दो साला मीआद के लिए इस के ग़ैर मुस्तक़िल रुकन की हैसियत से शामिल हुवा है । एस्टेट डिपार्टमैंट ने कहा कि अमरीकी हुकूमत को जमा अतुद्दावा लीडर हाफ़िज़ सईद की कराची में मुनाक़िदा हालिया रिया ली के बशमोल आम जलसों में शिरकत के ताल्लुक़ सेतशवीश है ।

महिकमा-ए-ख़ारजा ने कहा कि लश्कर-ए-तैबा और इस की महाज़ी तंज़ीम जमा अतुद्दावा पर अलक़ायदा के साथ इस के रवाबित की वजह से बैन उल-अक़वामी सतह पर तहदीदात आइद हैं। हम ने हकूमत-ए-पाकिस्तान से हमेशा अपील की है और अपील करते रहेंगे कि अक़वाम-ए-मुत्तहिदा सलामती कौंसल क़रारदाद 1267/1999 की मुताबिक़त में अपने फ़राइज़ की तकमील करे ।

ये क़रारदाद तमाम ममालिक से अपील करती है कि इमतिना वाले ग्रुपों के असासा जात मुंजमिद कर दिए जाएं , उन को असलहा की मुंतक़ली रोक दी जाय और पाबंदी वाले अफ़राद को अपने इलाक़ों में दाख़िल होने या वहां से गुज़रने से रोका जाय।

TOPPOPULARRECENT