Sunday , December 17 2017

आम शहरियों पर नाटो फ़िज़ाई हमले करज़ई की जानिब से मुज़म्मत

अफ़्ग़ान सदर हामिद करज़ई ने आज एक नाटो फ़िज़ाई हमले को नाक़ाबिल-ए-क़बूल क़रार देते हुए मुज़म्मत की , जिस में 18 शहरी हलाक होगए , जिस के पेश नज़र वो बीजिंग का दौरा मुख़्तसर करते हुए वतन वापिस हो रहे हैं ,

अफ़्ग़ान सदर हामिद करज़ई ने आज एक नाटो फ़िज़ाई हमले को नाक़ाबिल-ए-क़बूल क़रार देते हुए मुज़म्मत की , जिस में 18 शहरी हलाक होगए , जिस के पेश नज़र वो बीजिंग का दौरा मुख़्तसर करते हुए वतन वापिस हो रहे हैं ,

उन के दफ़्तर ने ये बात कही । करज़ई ने काबुल के जुनूब में वाक़ै सूबा लोगार में चहारशंबा(बुध) को पेश आए हमले के ताल्लुक़ से कहा कि नाटो की जानिब से हमले जो आम शहरियों की जान-ओ-माल के नुक़्सान का सबब बन रहे हैं ,

किसी भी तरह मुंसिफ़ाना नहीं हो सकते और हमें बिलकुल्लिया काबिल-ए-क़बूल नहीं है। क़सर सदारत की जानिब से कहा गया है कि करज़ई नाटो हमले में शहरियों की अम्वात पर निहायत रंजीदा हैं

और इसी रोज़ क़ंधार ख़ुदकुश बमबारी पर भी उन्हें काफ़ी दुख पहूँचा और उन्हों ने अपना सफ़र चीन मुख़्तसर कर दिया।

TOPPOPULARRECENT