Wednesday , December 13 2017

आयकर विभाग का शिकंजा, बैंकों से नोटबंदी से पहले नकद जमा का ब्यौरा मांगा

नई दिल्ली: आयकर विभाग नोटबंदी से पहले बैंकों में जमा राशि का पता लगाने की तैयारी में है। विभाग ने बैंकों से एक अप्रैल से 9 नवंबर 2016 के बीच सेविंग खातों में नकदी जमा के बारे में रिपोर्ट मांगी है। इसके अलावा बैंकों से यह भी कहा गया है कि वे अपने खाताधारकों से पैन कार्ड या फार्म 60 (जिनके पास पैन नहीं है) 28 फरवरी तक जमा करने के लिए कहें जिन्होंने खाता खोलते समय यह जमा नहीं कराया था।

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

न्यूज़ नेटवर्क समूह प्रदेश 18 के मुताबिक़ एक अधिसूचना के अनुसार बैंक सहकारी बैंकों और डाकघरों को एक अप्रैल से नौ नवंबर 2016 के बीच सभी नकद जमा के बारे में जानकारी देनी होगी। नौ नवंबर से 500 और एक हजार रुपये के नोटों पर पाबंदी लगाई गई थी। साथ ही बैंक अधिकारियों को खाताधारकों से पैन या फार्म 60 लेने और आयकर अधिनियम के तहत लेनदेन के सभी रिकॉर्ड रखने के लिए कहा गया था।

विभाग के अनुसार जिन लोगों ने खाता खोलते समय पैन कार्ड या फार्म 60 का उल्लेख नहीं किया है, उन्हें 28 फरवरी तक जमा कराना होगा.

इसके अलावा नौ नवंबर से लागू नोटबंदी के मद्देनजर आयकर विभाग ने बैंकों और डाकघरों को 10 नवंबर से 30 दिसंबर 2016 के बीच सेविंग खातों में 2.5 लाख रुपये से अधिक की जमा और चालू खाते में 12.50 लाख रुपये से अधिक की राशि के बारे में जानकारी देने के लिए कहा था। साथ ही एक दिन में पचास हजार रुपये से अधिक की नकद जमा राशि के बारे में भी जानकारी मांगी गई थी।

TOPPOPULARRECENT