Sunday , December 17 2017

आरएसएस की सरगर्मीयों में वुसअत

नागौर राजस्थान: आरएसएस ने आज ये इद्दिआ किया है कि पिछले एक साल से इसकी सरगर्मीयां वुसअत इख़तियार कर रही हैं जबकि 90 फ़ीसद शाखाओं से तलबाए और पेशा-वर अफ़राद वाबस्ता हैं। संघ‌ के आर्गेनाईज़र ने बताया कि मुल्क भर में 56,859 शाखाएं पाई जाती हैं अगर शाखाओं में 2012 से 2014 तक मामूली रफ़्तार से इज़ाफ़ा हुआ है।

लेकिन 2015-16 में 5,524 शाखाओं का क़ियाम अमल में लाया गया है। आरएसएस की आला इख़तियारी फ़ैसला साज़ कमेटी अखिल भारतीय प्रति निधि सभा का सालाना इजलास आज से यहां शुरू हो गया है। इस मौक़े पर सहा सरका रहावा मिस्टर कृष्णा गोपाल ने बताया कि 56,859 शाखाओं में 90 फ़ीसद अज़ला में काम करती हैं जिसमें 65.6 फ़ीसद तलबाए और 35.3 फ़ीसद नौजवान सनतकार और पेशा-वर अफ़राद हैं, बाक़ीमांदा 90 फ़ीसद शाखाओं में 40 साल से ज़ाइद उम्र के कारकुन हैं।

उन्होंने बताया कि वालंटियरस की मेहनत और अवाम की ख़िदमत की वजह से संघ‌ को मक़बूलियत हासिल हो रही है और पिछले साल मुल्क भर में 83 ट्रेनिंग कैंप मुनाक़िद किए गए|

TOPPOPULARRECENT