आरएसएस मजहब की बुनियाद पर रिज़र्वेशन के खिलाफ

आरएसएस मजहब की बुनियाद पर रिज़र्वेशन के खिलाफ
Click for full image

रांची : आरएसएस के दत्तात्रेय होसबले ने कहा है कि संघ कानून में रिज़र्वेशन जारी रखने के हक़ में है, लेकिन मजहब की बुनियाद पर किसी भी क़िस्म के रिज़र्वेशन के पूरी तरह खिलाफ है। कानून में किये गये रिज़र्वेशन के तजवीज का आरएसएस न सिर्फ हिमायत करता है, बल्कि उसने 1981 में अपनी नुमायंदगी इजलास में रिज़र्वेशन के हिमायत में तजवीज भी पास किया था।

दत्तात्रेय होसबले संघ के ऑल इंडिया वर्किंग कमेटी की बैठक शुरू होने के बाद जुमा को रांची के सरला बिरला स्कूल अहाते में सहाफ़ियों से बात कर रहे थे़। इस दौरान उनके साथ मनमोहन वैद्य भी मौजूद थे़। सरसंघ चालक मोहन भागवत के रिज़र्वेशन के मुद्दे पर दिये गये बयान से मुतल्लिक़ सवाल पर दत्तात्रेय ने कहा कि मीडिया ने इसे तोड़-मरोड़ कर पेश किया है। संघ कानून के दायरे में ही रिज़र्वेशन चाहता है।

Top Stories