Thursday , November 23 2017
Home / Bihar News / आरएसएस मुल्क का गद्दार, वजीरे आजम उसके मुबलिग : लालू प्रसाद

आरएसएस मुल्क का गद्दार, वजीरे आजम उसके मुबलिग : लालू प्रसाद

पटना : लालू प्रसाद ने आरएसएस और वजीरे आजम नरेंद्र मोदी पर जमकर निशाना साधा है। एक प्राइवेट चैनल से बातचीत में उन्होंने कहा कि फिल्म अदाकार शाहरुख खान को मुल्क का गद्दार कहने वाले लोग ही मुल्क के गद्दार हैं। आरएसएस के लोग मुल्क के गद्दार हैं।

हम तो आरएसएस और भाजपा को बैन लगाने और उन्हें जेल में बंद करने की मुतालिबात करते रहे हैं। मुल्क को वो टुकड़ा-टुकड़ा करना चाहते हैं। लालू प्रसाद ने कहा आरएसएस हो या फिर भाजपा जितना भी सिर पटक ले, लेकिन फिर से हमारी हुकूमत की वापसी हो रही है। पीएम नरेंद्र मोदी मुल्क के वजीरे आजम नहीं आरएसएस के मुबलिग का काम कर रहे हैं। वे हुकूमत का काम नहीं कर रहे हैं। अवाम भी इसे समझ रही है। बिहार एलेक्शन में उन लोगों ने सब तरह के उपाय किये। कोसी-मिथिलांचल में इंतिख़ाब हो रहा है, वे फिर से कॉमिनल बातों का इश्तिहार दे रहे हैं।

मजहबी फसाद, बुनियाद परस्त आरएसएस के जेहन में है। भाजपा तो आरएसएस का सिर्फ मुखौटा है। लालू प्रसाद ने आरएसएस व भाजपा को याद दिलाया कि जब अमेरिका के सदर बराक ओबामा भारत आये थे तो उन्होंने भाजपा व पीएम नरेंद्र मोदी के पीठ पर चाबुक मारा था और कहा था कि रंग भेद व मजहब की बुनियाद पर मुल्क का बंटवारा मुनासिब नहीं है। उस वक़्त भाजपा व आरएसएस क्यों नहीं बोली थी? ओबामा अपने मुल्क गये तो कहा कि भारत में मजहबी अदम रोवेदारी (इंटोलोरेंस) जिस तरह से है अगर गांधी जी ज़िंदा रहते तो वे भी शरमा जाते।

ओबामा हो या शाहरुख खान दोनों ठीक कह रहे हैं। शाहरुख अक़लियत है तो उसे इस्तेहाल किया जा रहा है। कहा कि किसने कहा है कि गाय का कत्ल करो। मुल्क में बीफ एक्सपोर्ट करने वाले पांच बड़े लोगों में चार ब्राह्मण और एक मुसलिम हैं। उन्हें गाय से क्या लेना देना, गाय पालने वाले तो हमलोग हैं। पाकिस्तान ने कहा था कि भारत दूसरा मुल्क है जहां सबसे ज्यादा बीफ का एक्सपोर्ट होता है। अमित शाह ने कहा था कि लालू-नीतीश इत्तिहाद जीतेगा तो पाकिस्तान में पटाका फूटेगा? वे हार मान चुके हैं और डिस्पेरेट हो गये हैं। आरएसएस चीफ़ मोहन भागवत भाजपा के जदीद उस्ताद हैं।

पता नहीं रिज़र्वेशन पर उनका क्या बुनियाद है। अगर रिजर्वेशन पर उनकी जेहन ठीक है तो उस्ताद गोलबरकर की किताब को वे जला दें। जैसे रिज़र्वेशन पर उन्होंने सवाल उठाया तो हमने जवाब दिया।

TOPPOPULARRECENT