Thursday , September 20 2018

आरक्षण विवाद: RSS के बयान पर लालू, केजरीवाल सहित देश के बड़े नेताओं ने जताया विरोध

नई दिल्ली: आरक्षण खत्म करने के मुद्दे पर संघ विचारक मनमोहन वैद्य ने एक बार फिर पुरे देश में राजनितिक हलचल पैदा कर दी है. मनमोहन वैद्य को निशाने पर लेते हुए राजद प्रमुख और पूर्व मुख्यमंत्री लालू प्रसाद, दिल्ली के मुख्य मंत्री अरविन्द केजरीवाल, हार्दिक पटेल सहित अन्य नेताओं ने ट्वीट कर तंज़ करते हुए विरोध प्रकट किया है.

Facebook पे हमारे पेज को लाइक करने के लिए क्लिक करिये

लालू प्रसाद ने अपने ट्विटर में लिखा है कि आरक्षण संविधान प्रदत्त अधिकार है. संघ जैसे जातिवादी संगठन की खैरात नहीं. इसे छीनने की बात करने वालों को औकात में लाना हम को आता है. आरएसएस में इतनी हिम्मत नहीं कि वह इसे छीन सके.
लालू ने कहा कि वह यह बताएं कि उसने अपने यहां पर 100 फीसदी आरक्षण क्यों दे रखा है. अब तक वहां पर कोई भी गैर सवर्ण, दलित या महिला क्यों संघ प्रमुख नहीं बन सका है.
वहीँ अरविन्द केजरीवाल ने कहा कि किसी हालत में भाजपा को आरक्षण ख़त्म करने नहीं देंगे.
हार्दिक पटेल ने अपने ट्वीट में कहा “सौ साल हुए नहीं RSS को देश की वंचितों का भाग्य तय करने लगे? आरक्षण के अधिकार को PM पद जैसा खैराती दूकान समझना बंद करे RSS.

 

आप को बता दें कि आरएसएस के आरक्षण विरोधी बयान के कारण भाजपा को बिहार में करारी हार मिली थी.

TOPPOPULARRECENT