Sunday , December 17 2017

आर्थिक असमानता में भारत दूसरे स्थान पर

नई दिल्ली: आर्थिक स्तर पर असमानता के मामले में भारत दूसरे स्थान पर है जहां अरबपतियों जिनके पास एक लाख या उससे अधिक संपत्ति हैं वे वाक्यांश धन का आधा अपने नियंत्रण में रखते हैं । न्यू वर्ल्ड वेल्थ की जांच रिपोर्ट के अनुसार रूस के बाद भारत असमानता के मामले में दूसरे स्थान पर है और यहां की 54 प्रतिशत धन अरबपतियों के हाथों में है। भारत दुनिया भर में 10 धनी सबसे देशों में शामिल है जहां कुल व्यक्तिगत धन 5600 अरब डालर की है जबकि औसतन एक भारतीय गरीब है।

वैश्विक स्तर पर रूस आर्थिक क्षेत्र में असमानता के मामले में अव्वल है जहां अरबपतियों देश की कुल संपत्ति का 62 प्रतिशत से अधिक लोग अपने नियंत्रण में रखते हैं। दूसरी ओर जापान को समानता के मामले में सबसे अच्छा देश घोषित किया गया है। यहां के अरबपति वाक्यांश धन का केवल 22 प्रतिशत ही अपने कब्जे में रखे हुए हैं।

ऑस्ट्रेलिया भी बराबर खड़े होते हैं जहां धनी व्यक्तियों के पास कुल धन का केवल 28 प्रतिशत मौजूद है। जहां तक अमेरिका का संबंध है रिपोर्ट में यह आश्चर्यजनक खुलासा हुआ कि यहां के अरबपतियों वाक्यांश धन का लगभग 32 प्रतिशत अपने निपटान में रखते हैं। ब्रिटेन भी इस मामले में कुछ नहीं और देश की कुल दौलत 35 प्रतिशत अरबपतियों के पास है।

TOPPOPULARRECENT