Monday , June 18 2018

आर एस एस और‌ बी जे पी में रिश्ते: माधव

आर एस इस के तर्जुमान राम माधव ने आज कहा कि ये आर एस एस का तरीका रहा है कि वो अपने वर्कर्स को बी जे पी के लिए मुतय्यन करती है और उन्हें भी ऐसी रिवायत के तहत बी जे पी में काम करने को कहा गया है।

आर एस इस के तर्जुमान राम माधव ने आज कहा कि ये आर एस एस का तरीका रहा है कि वो अपने वर्कर्स को बी जे पी के लिए मुतय्यन करती है और उन्हें भी ऐसी रिवायत के तहत बी जे पी में काम करने को कहा गया है।

उन्होंने यहां आर एस एस के एक इजलास के बाद नामा निगारों से बात चीत करते हुए कहा कि आर एस एस हमेशा से अपने वर्कर्स को बी जे पी के लिए मुख़तस करती आ रही है और अब भी ऐसा ही किया गया है। ऐसा करना बी जे पी के उमूर पर कंट्रोल करने आर एस एस की कोशिश नहीं है।

राम माधव ने ये वाज़िह किया कि 7 जुलाई को शुरू होकर आज ख़त्म हुए आर एस एस के इजलास में कई मसाइल पर ग़ौर किया गया है और मुल्क भर से आए हुए नुमाइंदों ने भी कई मसाइल उठाए थे। उन्होंने कहा कि आर एस एस मुताल्लिक़ा रियासतों में ये मसाइल उठाएगी। उन्होंने इजलास में ज़ेर बहस मसाइल की तफ़सील नहीं बताई।

TOPPOPULARRECENT