Thursday , December 14 2017

आर एस एस से मुल्हिक़ तंज़ी में अराज़ी बिल की मुख़ालिफ़

नई दिल्ली: आर एस एस से मुल्हिक़ भारतीय मज़दूर सिंह , भारतीय किसान सिंह और अखिल भारतीय वाराणासी कल्याण आश्रम ने हुकूमत के मुतनाज़ा अराज़ी बिल की मुख़ालिफ़त की। ज़राए ने बताया कि इन तंज़ीमों ने मुशतर्का पारलीमानी कमेटी के रूबरू इस बिल के म

नई दिल्ली: आर एस एस से मुल्हिक़ भारतीय मज़दूर सिंह , भारतीय किसान सिंह और अखिल भारतीय वाराणासी कल्याण आश्रम ने हुकूमत के मुतनाज़ा अराज़ी बिल की मुख़ालिफ़त की। ज़राए ने बताया कि इन तंज़ीमों ने मुशतर्का पारलीमानी कमेटी के रूबरू इस बिल के मुसव्वदा में शामिल बाज़ हिस्सों पर शदीद एतराज़ किया।

उन्होंने सनअती राहदारी केलिए अराज़ी के हुसूल और ख़ानगी मिल्कियत की इस्तिलाह के बारे में भी सवालात उठाए। आम आदमी पार्टी के साबिक़ लीडर योगेंद्र यादव ने भी पैनल के रूबरू पेश हुए। बादअज़ां उन्होंने मीडिया को बताया कि एन डी ए का अराज़ी बिल हुसूल आराज़ीयात आर्डीनेंस नहीं बल्कि आराज़ीयात पर क़बज़ा है। उन्होंने बताया कि मुशतर्का पार्लीमानी पैनल के रूबरू हम ने अपना मौक़िफ़ पेश किया है। उन्होंने कहा कि हम किसानों की भलाई के ख़ाहां है।

TOPPOPULARRECENT