Sunday , December 17 2017

आर टी सी किरायों में 20 फ़ीसद इज़ाफ़ा मुतवक़्क़े

पेट्रोल-ओ-डीज़ल की क़ीमतों में इज़ाफे के बाद आम शहरीयों को अपनी जेब हल्की करनी पड़ रही है। आंध्र प्रदेश में भी मुख़ालिफ़ तेलंगाना एहतेजाज और महंगाई के असर से अवामुन्नास महफ़ूज़ नहीं हैं।

पेट्रोल-ओ-डीज़ल की क़ीमतों में इज़ाफे के बाद आम शहरीयों को अपनी जेब हल्की करनी पड़ रही है। आंध्र प्रदेश में भी मुख़ालिफ़ तेलंगाना एहतेजाज और महंगाई के असर से अवामुन्नास महफ़ूज़ नहीं हैं।

आंध्र प्रदेश स्टेट रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन ने सीमा आंध्र में एहतेजाज के बाइस होने वाले नुक़्सानात की पबजाई के लिए किरायों में 20 फ़ीसद इज़ाफे़ का इशारा दिया है।

डीज़ल की क़ीमत में इज़ाफे के बाइस भी आर टी सी किरायों में इज़ाफ़ा होरहा है। इस साल बस किरायों में तीसरी मर्तबा इज़ाफ़ा होगा । पहली मर्तबा माह मई के दौरान आर टी सी किरायों में इज़ाफ़ा किया गया था दूसरी मर्तबा जुलाई में इज़ाफ़ा हुआ।

सीमा आंध्र में तेलंगाना के ख़िलाफ़ जारी एहतेजाज के बाइस आर टी सी को भारी नुक़्सान से दो चार होना पड़ा है दुसरी वजूहात के बाइस भी आर टी सी को नुक़्सानात का सामना करना पड़ रहा है।

फ़िलहाल आर टी सी ने एलान किया हैके उसे 4000 करोड़ का ख़सारा होरहा है। इस ने अपने मसारिफ़ की पा बजाई के लिए 4000 करोड़ रुपये का क़र्ज़ हासिल किया है।

गुज़शता दो हफ़्तों से सीमा आंध्र में मुख़ालिफ़ तेलंगाना एहतेजाज ने आर टी सी को शदीद ख़सारे से दो-चार किया है। 12 हज़ार बसें सड़कों से ग़ायब हैं और आर टी सी को रोज़ाना 12 करोड़ का नुक़्सान होरहा है।

TOPPOPULARRECENT