Friday , September 21 2018

आलमगंज में सेक्स रैकेट का पर्दाफ़ाश

आलमगंज पुलिस ने सेक्स रैकेट में शामिल एक ऐसे गिरोह का पर्दाफ़ाश किया है, जो नाबालिग लड़की को दिखा कर गहकों को फांसने का काम करता था। धंधे को चलाने वाली आंगनबाड़ी खिदमत गुज़ार है।

आलमगंज पुलिस ने सेक्स रैकेट में शामिल एक ऐसे गिरोह का पर्दाफ़ाश किया है, जो नाबालिग लड़की को दिखा कर गहकों को फांसने का काम करता था। धंधे को चलाने वाली आंगनबाड़ी खिदमत गुज़ार है।

हालत यह है कि छापेमारी के दरम्यान दो गाहक पुलिस को पीछे के दरवाजे से चकमा देकर फरार हो गये। पुलिस ने छापेमारी के दरम्यान शराब की बोतल, रुपये और मोबाइल फोन समेत दीगर सामान बरामद किया है।

पुलिस ने इस मामले में दो खातून को गिरफ्तार किया है। आला पुलिस सुप्रीटेंडेंट मनु महाराज की हिदायत पर शहर पुलिस सुप्रीटेंडेंट आशीष भारती की कियादत में टीम तशकील की गयी। तशकील टीम में डिवीज़नल पुलिस ओहदेदार राजेश कुमार और थाना इंचार्ज अकील अहमद की कियादत में पुलिस ओहदेदारों को लगाया गया। टीम में शामिल पुलिस मुलाज़िमीन थाना की बंजरंगपुरी कॉलोनी में वाकेय हरदेव पंडित के मकान में निगरानी रख रहे थे। वहां आनेवाले अफरादों की मुश्तबा सरगरमियों पर पुलिस की नजर थी। जुमे की शाम पुलिस टीम ने छापेमारी की। हालांकि, टीम को देखते हुए घर में रहे दो गाहक पीछे के दरवाजे से भाग गये। पुलिस ने इस मामले में दो ख़वातीन को गिरफ्तार किया है। गिरफ्तार ख़वातीन ने बताया कि दो सालों से जिश्म फरोशी का धंधा चला रही थीं।

डीएसपी राजेश कुमार ने बताया कि पकड़ी गयी खातून ने पुलिस को बताया कि वह आंगनबाड़ी सेंटर में काम करती है, जबकि दूसरी खातून ने बताया कि वह घर में बरतन धोने का काम करती थी। इसी दौरान धंधा चलाने वाली खातून से भेंट हुई और वह उसके साथ धंधे में आ गयी। पुलिस ने बताया कि धंधा चलाने वाली खातून गाहकों को नाबालिग बेटी को दिखा कर फांसती थी। पुलिस को बताया कि धंधे में उसकी कमाई दस से पंद्रह हजार रुपये होती थी, जिसमें वह मकान मालिक को भी हिस्सा देती थी। डीएसपी ने बताया कि इस सिलसिले में मकान मालिक के खिलाफ भी सनाह दर्ज की जायेगी। गिरफ्तार ख़वातीन में एक जहानाबाद व दूसरी मसौढ़ी की हैं। छापेमारी में पुलिस ने शराब की दो बड़ी बोतलें, 4930 रुपये, दो मोबाइल , कंडोम के 22 पैकेट, सिगरेट के दो पैकेट और दीगर सामान बरामद किया।

TOPPOPULARRECENT