Tuesday , December 19 2017

आलमी चैलेंजों से फ़रार ना होने ताजिरों को मोदी का मश्वरा

नरेंद्र मोदी ने ताजिर बिरादरी से कहा कि आलमी चैलेंजस से फ़रारि इख़तेयार ना करें बल्कि उनका सामना करें। उन्होंने तैक़ून‌ दिया कि तमाम गै़रज़रूरी क़वानीन मंसूख़ करदिए जाऐंगे। ऐसा मालूम होता है कि हुकूमत समझती है कि तमाम चोर हैं।

नरेंद्र मोदी ने ताजिर बिरादरी से कहा कि आलमी चैलेंजस से फ़रारि इख़तेयार ना करें बल्कि उनका सामना करें। उन्होंने तैक़ून‌ दिया कि तमाम गै़रज़रूरी क़वानीन मंसूख़ करदिए जाऐंगे। ऐसा मालूम होता है कि हुकूमत समझती है कि तमाम चोर हैं।

उन्होंने कहा कि में नहीं जानता कि इस से मुझे सियासी फ़ायदा पहुंचेगा या नहीं लेकिन ताजिर बिरादरी को मेरा मश्वरा है कि आलमी चैलेंजस से राह फ़रार इख़तेयार ना करें। उन्हें ये नहीं समझना चाहिए कि अगर कारोबार ऑनलाइन होजाए तो उनके कारोबार ख़त्म होजाएंगे।

उन्होंने कहा कि आप को हुकूमत से मुतालिबा करना चाहिए कि चैलेंजस का सामना करने की क़ाबिलीयत इन में पैदा करने के लिए हुकूमत मदद करे। उन्होंने कहा कि छोटा सा सारिफ़ भी हमेशा बड़ी कंपनीयों की मसनूआत ख़रीदना चाहता है ये फ़ैसला करना हमारा काम नहीं कि इस रुजहान से फ़रार हासिल करें बल्कि इस का मुक़ाबला करना हमारा काम है।

TOPPOPULARRECENT