Wednesday , December 13 2017

आलिया शिरीन मेयर गुलबर्गा

पारलीमानी चुनाव के लिए राय दही से पहले कांग्रेस को सिटी कारपोरेशन गुलबर्गा के चुनाव में मेयर और डिप्टी मेयर के ओहदों पर ज़बरदस्त कामयाबी हासिल हुई है।

पारलीमानी चुनाव के लिए राय दही से पहले कांग्रेस को सिटी कारपोरेशन गुलबर्गा के चुनाव में मेयर और डिप्टी मेयर के ओहदों पर ज़बरदस्त कामयाबी हासिल हुई है।

इन इक़तिदार की कुर्सीयों के हुसूल से कांग्रेस के हौसलों में काफ़ी इज़ाफ़ा होगया है। जबकि बी जे पी को पारलीमानी चुनाव से पहले कारपोरेशन के अहम ओहदों के चुनाव में शिकस्त का सामना करना पड़ा है।

ये चुनाव चहारशंबा की शाम गुलबर्गा में मुनाक़िद हुए । वार्ड नंबर 26 गुलबर्गा की कांग्रेसी उम्मीदवार 26 साला शीरीन बेगम मेयर गुलबर्गा मुंतख़ब होगईं।

उन्होंने अपनी मुख़ालिफ़ बी जे पी की उम्मीदवार आरती तिवारी को शिकस्त दी। वार्ड नंबर 55 गुलबर्गा के कांग्रेसी कारपोरेटर महेश होसूर कर ने डिप्टी मेयर के ओहदे के लिए अपने हरीफ़ बी जे पी उम्मीदवार शैव स्वामी को शिकस्त दी।

शीरीन और होसूर कर दोनों ने फी कस 37 वोट हासिल किए। जबकि इन दोनों के हरीफ़ उम्मीदवार एन आरती तिवारी और शिव स्वामी ने फी कस 17 वोट हासिल किए।

सिटी कारपोरेशन गुलबर्गा के अरकान की तादाद 61 है जिस में अरकाने असेंबली-ओ-पार्लियामेंट के 6 वोट भी शामिल हैं। दो कारपूरेटरस फ़ैसल (के जे पी) और अंजुम फ़ातिमा जनता दल सेकूलर ने चुनाव में हिस्सा नहीं लिया।

ज़िला इंचार्ज वज़ीर गुलबर्गा-ओ-वज़ीर मुंसिपल ऐडमिनिस्ट्रेशन कर्नाटक अल्हाज क़मर उल-इस्लाम ने भी अपने वोट का इस्तेमाल किया। अगर चेके कारपोरेशन में कांग्रेस को वाज़िह अक्सरीयत हासिल नहीं है लेकिन कहा जा रहा हैके मुमताज़ अवामी क़ाइद क़मर उल-इस्लाम की फ़िरासत-ओ-मक़बूलियत के सबब कांग्रेसी उम्मीदवार इन मेयर-ओ-डिप्टी मेयर दोनों ओहदों पर कामयाब होगए।

TOPPOPULARRECENT