Monday , December 18 2017

आलू को लेकर जंग, झारखंड ने बंगाल को बिजली-पानी रोकने की धमकी दी

मगरीबी बंगाल हुकूमत की तरफ से आलू की फराहमी पर रोक लगाने का झारखंड हुकूमत ने एहतेजाज किया है। ज़िराअत वज़ीर योगेंद्र साव ने बताया : झारखंड हुकूमत का वफ़द बंगाल हुकूमत से बात करने कोलकाता जायेगा। उन्होंने कहा : सरकार ने इस मामले को संज

मगरीबी बंगाल हुकूमत की तरफ से आलू की फराहमी पर रोक लगाने का झारखंड हुकूमत ने एहतेजाज किया है। ज़िराअत वज़ीर योगेंद्र साव ने बताया : झारखंड हुकूमत का वफ़द बंगाल हुकूमत से बात करने कोलकाता जायेगा। उन्होंने कहा : सरकार ने इस मामले को संजीदगी से लिया है। मंगल को हुई कैबिनेट की बैठक में भी इस पर बहस हुई। बैठक में तमाम वूजरा ने सलाह दी कि इस मुद्दे पर एक बार मगरीबी बंगाल की हुकूमत से बात की जाये। बैठक में कहा गया कि झारखंड हुकूमत की तरफ से सब्जियों की सप्लाई रोकना सही नहीं होगा। बेहतर होगा कि हुकूमत इस मुद्दे पर बंगाल हुकूमत से बात करे।

चीफ़ सेक्रेटरी सतह से भी बातचीत हो रही है। ऐसे में हड़बड़ी में कोई कदम उठाना गलत पैगाम देगा। ज़िराअत वज़ीर ने कहा : हुकूमत इस मसले के हल में लगी हुई है। जल्द ही रास्ता निकल आयेगा।

मरकज़ी वज़ीरे ज़िराअत से मुदाखिलत की दरख्वास्त

योगेंद्र साव ने बताया : मामले में मर्कज़ी ज़िराअत वज़ीर शरद पवार को भी खत लिखा गया है। उनसे मुदाखिलत की दरख्वास्त किया गया है। खत के जरिये झारखंड में आलू की बेला ताखीर सप्लाय यक़ीनी कराने की दरख्वास्त किया गया है। कहा गया है कि ऐसा नहीं होने पर झारखंड हुकूमत को भी कुछ बड़े कदम उठाने पड़ सकते हैं।

जमाखोरों के खिलाफ छापेमारी

रियासत में जमाखोरी की वजह से महंगाई बढ़ रही है। हुकूमत अब जमाखोरों के खिलाफ छापामारी मुहिम चलायेगी। एक से दो सप्ताह में शरह पर कंट्रोल कर लिया जायेगा। इस मुद्दे पर बातचीत करने के लिए तमाम बाजार समितियों के सेक्रेटेरियों को बुलाया गया है।

रोक देंगे बंगाल का बिजली-पानी

रियासत के खज़ाना, तूअनाई और सेहत वज़ीर राजेंद्र सिंह ने कहा है कि मगरीबी बंगाल ने झारखंड को आलू देना शुरू नहीं किया, तो हम बिजली, पानी रोक देंगे। मंगल की रात एक टीवी चैनल से बातचीत के दौरान उन्होंने कहा : मगरीबी बंगाल से सप्लाय नहीं होने की वजह से रियासत में आलू महंगा हो गया है। रियासत हुकूमत ने वहां के अफसरों से बात की है। इस मामले को हुकूमत संजीदगी से ले रही है। मगरीबी बंगाल ने जल्द इसका हल नहीं निकाला, तो हम बंगाल का बिजली और पानी रोक देंगे।

TOPPOPULARRECENT