Saturday , July 21 2018

आसनसोल हिंसा: 4 अप्रैल तक इंटरनेट सेवा बंद

राज्यपाल ने इससे पहले बयान जारी कर आसनसोल व रानीगंज में हिंसा की घटनाओं पर चिंता जतायी थी और शांति की अपील की थी। राज्यपाल के संभावित आसनसोल दौरे के संबंध में पूछे जाने पर राज्य के शिक्षा व संसदीय मामलों के मंत्री पार्थ चटर्जी ने कहा कि उन्हें राज्यपाल के आसनसोल जाने के बारे जानकारी नहीं है।

यदि वह आसनसोल जाना चाहते हैं, तो जायें। इसमें मुझे क्या कहना है. ज्ञात रहे कि राज्यपाल ने 26 मार्च को हिंसा में घायल दुर्गापुर के अस्पताल में भर्ती डीसीपी अरिंदम दत्ता चौधरी को देखने की योजना बनायी थी। लेकिन राज्य सरकार ने पुलिस कर्मियों की कमी का हवाला देकर उन्हें वहां न जाने की सलाह दी थी।

इस पर राज्यपाल द्वारा नाराजगी जतायी गयी थी। उधर, आसनसोल और रानीगंज की स्थिति अब धीरे-धीरे सामान्य हो रही है। लेकिन शुक्रवार को भी निषेधाज्ञा बरकरार रहा और इंटरनेट सेवाएं निलंबित रहीं। एसडीओ पी रॉयचौधरी ने कहा कि आसनसोल के दक्षिणी हिस्सों में दुकानें एवं बाजार खुले रहे और वाहनों की आवाजाही शुरू हुई।

उन्होंने बताया कि शहर के उत्तरी हिस्सों में अब भी तनाव बना हुआ है. रॉयचौधरी ने कहा कि हिंसा की नयी घटना नहीं हुई है लेकिन निषेधाज्ञा अब भी बरकरार है। उन्होंने बताया कि इंटरनेट सेवाएं चार अप्रैल तक निलंबित रहेंगी।

एसडीओ ने कहा कि पुलिस ने लोगों में सुरक्षा की भावना भरने के लिए शहर में एक मार्च निकाला। मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने आसनसोल- रानीगंज इलाके की स्थिति का जायजा लेने के लिए गुरुवार को राज्य सचिवालय में उच्च स्तरीय बैठक की थी।

TOPPOPULARRECENT