Saturday , January 20 2018

आसिया को पुलिस ने उनके ही घर से किया गिरफ्तार

श्रीनगर: जुमे के रोज़ सुबह जम्मू कश्मीर को पुलिस को उस वक्त एक बडी कामयाबी हाथ लगी, जब उसने दुख्तरान-ए-मिल्लत की चीफ आसिया को उनके घर से गिरफ्तार कर लिया। असिया इस अलहैदगी पसंद तंज़ीम की इकलौती खातून लीडर है, और उसे मलिका-ए-मौत के नाम से भी जाना जाता है।

आसिया कश्मीर में बड़े पैमाने पर ख़्वातीन को बुर्का पहनवाने के लिए कैंपेन चलाती है और अगर कोई खातून उसे बिना बुर्के के दिखे तो वह उसके मुंह पर कालिख पुतवा देती है। आसिया ने 1988 में एक तहरीक के जरिए कश्मीर के सभी सिनेमाघरों को बंद करा दिया था।

हाल ही में बॉलीवुड स्टार सलमान खान ने अपनी फिल्म बजरंगी भाईजान की कश्मीर में शूटिंग के दौरान वहां फिर से सिनेमाहॉल खुलवाने की बात की थी। इस पर असिया ने कहा था कि सलमान एक कातिल हैं और उन्हें यह बताने की जरूरत नहीं है कि कश्मीर में क्या होना चाहिए। आसिया अपने पर्स में हमेशा चाकू रखती है और ख़्वातीन को भी इसकी सलाह देती है।

मुंबई में 26/11 हमलों के मास्टर माइंड हाफिज सईद ने 14 अगस्त के रोज़ लाहौर में एक रैली की थी। असिया अंद्राबी ने इस रैली में फोन के जरिए लोगों से खिताब किया था। तकरीर में असिया ने पाकिस्तान को उसके यौम ए आज़ादी की मुबारकबादी दी थी और हिंदुस्तान के खिलाफ ज़हर उगली थी।

रैली में तकरीर के पहले असिया ने श्रीनगर में अपने रिहायशगाह पर पाकिस्तान का यौम ए आज़ादी मनायी और इस दौरान असिया और उसके हामियों ने पाकिस्तानी परचम लहराए थे। असिया ने 23 मार्च को पाकिस्तान के नेशनल डे पर भी इस मुल्क के परचम लहराइ थी ।

TOPPOPULARRECENT